v

इंदौर। झाबुआ से भाजपा के सांसद गुमानसिंह डामोर के इंदौर में आयोजित पारिवारिक कार्यक्रम पर राजनीति शुरू हो गई है। कोरोना गाइड लाइन का उल्लंघन करने के आरोप के साथ कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि भाजपा नेता न केवल बार बार नियम तोड़ रहें हैं बल्कि जनता की जान भी जोखिम में डाल रहे हैं। कांग्रेस नेता ने आयोजन की तस्वीरों के साथ शिकायत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ट्वीट भी कर दी। बुधवार रात ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में भाजपा के सांसद गुमानसिंह डामोर के बेटे के विवाह के अवसर पर आशीर्वाद समारोह आयोजित किया गया। कोरोना के लिए जारी गाइडलाइन के अनुसार विवाह समारोह में सिर्फ 250 लोग ही शामिल हो सकते हैं।

कांग्रेस सचिव राकेश सिंह यादव ने समारोह की तस्वीरों के साथ प्रधानमंत्री को ट्वीट किया कि समारोह में एक हजार से भी ज्यादा लोग एक समय में जमा हुए। समयसीमा को लेकर भी नियमों का पालन नहीं हुआ। क्या कोरोना से बचाव के नियम भाजपा नेताओं पर लागू नहीं होते। यादव ने कहा कि प्रशासन आम लोगों पर तो कार्रवाई करता है लेकिन नियम तोड़ते भाजपा नेताओं पर आंख मूंद लेता है।
इंदौर से लेकर झाबुआ तक के सांसद बार-बार नियम तोड़ रहें है। गौरतलब है कि इस आयोजन में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के भी आने का कार्यक्रम तय हुआ था। हालांकि ऐन मौके पर उनका इंदौर आना टल गया। ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में शहर और प्रदेश के तमाम भाजपा नेताओं के साथ नौकरशाहों ने भी भोज में शिरकत की।
कांग्रेस नेता ने निरस्त किया, भाजपा नेता नहीं मान रहे

बुधवार को ही इंदौर से कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने अपने बेटे के विवाह समारोह पर होना वाला भोज व रिसेप्शन निरस्त करने की घोषणा की थी। कोरोना गाइडलाइन इसकी वजह बनी। 31 हजार आमंत्रण पत्र बांटने के बाद विधायक ने समारोह निरस्त किया। ऐसे में कांग्रेस को अब सवाल उठाने का मौका मिल गया है कि जब विपक्ष के नेता गाइडलाइन और संक्रमण से बचाव के नियमों का पालन कर रहें है लेकिन सत्ताधारी दल के नेता लगातार नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। तीन दिन पहले भाजपा नेताओं ने देपालपुर में भी हजारों लोगों के साथ दीपावली मिलन समारोह आयोजित किया था। कांग्रेस नेता ने कहा कि अब देखने वाली बात होगी कि क्या प्रशासन निष्पक्ष होकर आम जनता की तरह सांसद पर कार्रवाई करता है या आंख मूंद लेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort