5 रु./यूनिट तक सस्ती मिलेगी बिजली, अभी 11 रुपए/यूनिट के हिसाब से आते हैं बिल

सरकार प्रदेश में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम (एमएसएमई) उद्योगों के लिए बिजली को लेकर बड़ी राहत देने की तैयारी में है। एमएसएमई के अंतर्गत संचालित उद्योगों को सस्ती दरों पर बिजली उपलब्ध कराने का प्रस्ताव बनाया गया है। इसके लागू होने के बाद एमएसएमई को 5 रुपए प्रति यूनिट तक सस्ती बिजली मिल सकेगी। इससे छोटे उद्योगों पर पड़ने वाली बिजली की मार से राहत मिलेगी। एमएसएमई मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने बताया कि कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते एमएसएमई को आने वाली दिक्कतों को दूर किया जाना है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बिजली बिलों पर चर्चा हुई है। अभी एमएसएमई के 11 रुपए यूनिट में बिजली बिल आते हैं। इन बिलों को कम किया जाएगा। छोटे उद्योगों को राहत के लिए 6 से 7 रुपए प्रति यूनिट बिजली दरें कर दी जाएगी। बिजली कंपनियों से जल्द ही इस प्रस्ताव को अमल में लाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

इंडस्ट्रियल एरिया को लेकर की जाएंगी ऑनलाइन मीटिंग
एमएसएमई विभाग इंडस्ट्रियल एरिया के व्यापारियों की समस्याओं को ऑनलाइन सुनने वाला है। मंत्री सकलेचा ने बताया कि भोपाल, इंदौर, ग्वालियर समेत सभी प्रमुख एमएसएमई हब वाले इंडस्ट्रीयल एरिया को लेकर ऑनलाइन बैठकें और वेबिनार किए जाएंगे। इसमें उद्योग से जुड़ी दिक्कतों को तुरंत दूर किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort