भोपाल. राजधानी के शाहजहांनाबाद थाने के एएसआई अंसार अहमद (49) की बुधवार को कोरोना संक्रमण से मौत हो गई है। वह चिरायु अस्पताल में 24 जुलाई से भर्ती थे। वह पुलिस विभाग की 25 साल से सेवा कर रहे थे। परिवार में पत्नी नाज और चार बच्चे हैं। दो बेटे अदनान, अनस और दो बेटियां आफरीन, जैनब हैं। परिवार धर्मेश नगर, अशोका गार्डन में रहता है। मूल रूप से अशोक नगर के रहने वाले हैं। ड्यूटी के बेहद पाबंद अंसार अहमद तीन महीने से घर में अलग कमरे में रहते थे और ड्यूटी से आने के बाद अपने कमरे को रोजाना धोते थे, परिवार और बच्चों से दूर से मिलते। उसी कमरे में खाना खाते और ड्यूटी चले जाते थे।

भोपाल में कोरोना संक्रमण से 17 दिन के अंदर दूसरे पुलिस अधिकारी की मौत हो गई है। इससे पहले 18 जुलाई को डीएसपी प्रेम प्रकाश गौतम की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी। वह अपराध अनुसंधान विभाग में कार्यरत थे। डीजीपी विवेक जौहरी ने एएसआई के निधन पर दुख जताया है। उन्होंने अफसोस जताते हुए ट्वीट किया है कि अंसार अहमद का कोरोना संक्रमण से निधन हो गया है। वह शाहजहांनाबाद में एएसआई पद पर थे। उनकी पुलिस विभाग में 25 साल की उत्कृष्ट सेवा रही है।
बड़े भाई ने बताया- सुबह डॉक्टरों का फोन आया, आपके भाई को बचा नहीं सके

अंसार के बड़े भाई निसार अहमद ने बताया कि अंसार की मौत की खबर सुबह चिरायु अस्पताल के डॉक्टरों से मिली। उन्होंने बताया कि आपके भाई का सुबह 6.30 बजे निधन हो गया है। हम उन्हें बचा नहीं सके। कोरोना संक्रमण की वजह से उनके फेफड़े 95 फीसदी डैमेज हो गए थे। अंसार तीन दिन से वेंटिलेटर पर थे। डॉक्टरों ने कहा कि हमने उन्हें बचाने की हर संभव कोशिश क, लेकिन बचा नहीं सके। मेरा भाई ड्यूटी का बेहद पाबंद था, जब भी उसे कहो छुट्टी ले लो तो मना कर देता। कहने लगता- भाई अगर हम ड्यूटी नहीं करेंगे तो फिर आम लोग कैसे सुरक्षित रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort