4 बैडमिंटन प्लेयर अफ्रीका में फंसे, 1 इंदौर से

इंदौर के रहने वाले बैडमिंटन प्लेयर प्रियांश खुशवानी बोत्सवाना (साउथ अफ्रीका) में फंस गए हैं। उनके साथ तीन भारतीय बैडमिंटन प्लेयर भी फंसे हुए हैं। सभी बोत्सवाना के लोबात्से में 25 से 28 नवंबर तक हुई बोत्सवाना इंटरनेशनल फ्यूचर सीरीज खेलने गए थे।

इंदौर जिला बैडमिंटन संगठन सचिव आरपी सिंह नय्यर ने बताया कि प्रियांश खुशवानी पहली बार इंटरनेशनल बैडमिंटन चैंपियनशिप खेलने गए थे। वह इंदौर जिला सीनियर के विजेता भी रह चुके हैं। बोत्सवाना चैम्पियनशिप में प्रियांश खुशवानी (पुरुष एकल) सेमिफाइनल तक खेले। भारत के ही फरोघ संजय अमन, नरेश शंकर अय्यर और रेवती देवस्थले भी खेलने गए थे। चारों को 28 नवंबर की शाम की फ्लाइट से भारत लौटना था, लेकिन कतर एयरवेज की फ्लाइट रद्द हो गई। 30 नवंबर की फ्लाइट से टिकट बुक किया, लेकिन ये भी रद्द हो गई।

इसके बाद अफ्रीका में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की वजह से 7 दिसम्बर तक अंतर्राष्ट्रीय हवाई सेवाएं स्थगित हो गईं। चारों खिलाड़ी अभी बोत्सवाना के भारतीय दूतावास के संरक्षण में हैं।

157 विदेशियों में से 52 का पता लगा, सभी की रिपोर्ट निगेटिव
नए वैरिएंट को लेकर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान चार दिन पहले सभी जिलों में कसावट के निर्देश दे चुके हैं। इसके तहत इंदौर में 1 नवंबर से 29 नवंबर तक विदेशों से आए 157 लोगों को छानबीन चल रही है। ये लोग अमेरिका, ब्रिटेन, पाकिस्तान, बांग्लादेश से इंदौर आए हैं। अभी तक 52 लोगों को तलाशकर उनके सैंपल टेस्ट किए गए। रिपोर्ट निगेटिव रही। सीएमएचओ डॉ. बीएस सेत्या ने बताया कि राज्य शासन ने 29 नवंबर को इन 157 यात्रियों की लिस्ट इंदौर स्वास्थ्य विभाग को सौंपी थी। गुरुवार को भी फिर 115 लोगों की दूसरी लिस्ट सौंपी गई हैं जो UK, USA, जर्मनी, नार्वे, स्वीडन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा आदि देशों से आए हैं। ये लोग वे हैं जो 1 नवम्बर से 30 नवम्बर के बीच इंदौर आए हैं। इनके सहित अब विदेश से इंदौर आए कुल लोगों की संख्या 272 हो गई है। इनमें से 57 लोगों का टेस्ट किया गया जो नेगेटिव हैं। सैंपल टेस्ट करने के लिए 38 टीमें लगी है। इनमें से कुछ लोग फिर इंदौर से बाहर गए हैं। उनकी भी जानकारी ली जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *