3 राज्यों में जवाद तूफान की दस्तक

बंगाल की खाड़ी में बने साइक्लोन जवाद के रविवार सुबह ओडिशा और आंध्र प्रदेश के कई तटवर्ती इलाकों से टकराने की आशंका है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने इस दौरान 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान जताया है। तूफान से निपटने के लिए तीनों राज्यों ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश में NDRF (नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स) की 46 टीमें तैनात की जा चुकी हैं। वहीं, राज्य सरकारों की तरफ से भी एहतियात बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं।

NDRF के डॉयरेक्टर जनरल अतुल करवाल ने कहा- जवाद से निपटने के लिए कुल 46 टीमों को ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश भेजा गया है। किसी भी टीम को एयरलिफ्ट करने के लिए भी हम तैयार हैं। 18 और टीमों को स्टैंडबाय पर रखा गया है।

PM मोदी की रिव्यू मीटिंग के बाद बढ़ाई गईं NDRF की टीमें

साइक्लोन जवाद से निपटने की तैयारियों के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को रिव्यू मीटिंग की थी। उन्होंने लोगों को रेस्क्यू करने के लिए हर संभव उपाय करने का निर्देश दिया था। बिजली, दूरसंचार, स्वास्थ्य और पीने के पानी जैसी सभी जरूरी सुविधाओं को बरकरार रखने के निर्देश दिए गए थे। मीटिंग के बाद NDRF (नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स) ने 33 और टीमों को इलाकों में तैनात किया है।

ओडिशा के 14 जिलों में अलर्ट घोषित

ओडिशा के 14 तटवर्ती जिलों में अलर्ट जारी किया गया है। राज्य ने दक्षिणी तट पर 266 रेस्क्यू टीम तैनात करने की योजना बनाई है। इनमें NDRF, स्टेट फायर डिपार्टमेंट और ओडिशा की SDRF (स्टेट डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स) शामिल है। इन जिलों में समुद्र किनारे मछुआरों के मछली पकड़ने पर फिलहाल रोक लगा दी गई है। IMD के डॉयरेक्टर जनरल मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि 4 दिसंबर को बारिश की तीव्रता बढ़ने की आशंका है। हवा की रफ्तार 50-55 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है। यह रफ्तार बाद में बढ़कर 100 किलोमीटर प्रति घंटा हो जाएगी।

आंध्र प्रदेश के CM ने दिए निर्देश
आंध्र प्रदेश के विजयनगरम, विशाखापट्‌टनम, श्रीकाकुलम में तूफान को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। CM वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने गुरुवार को इन जिलों के DM से बात की और उन्हें बचाव के उपाय करने का निर्देश दिया। तूफान के शनिवार शाम तक विशाखापट्‌टनम पहुंचने की आशंका है।

पश्चिम बंगाल में भारी बारिश की आशंका
पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की भी आशंका है। कोलकाता में 2, दक्षिण 24 परगना, उत्तर 24 परगना, पूर्वी मिदनापुर, पश्चिम मिदनापुर, हुगली और नादिया जिले में एक-एक टीम तैनात की गई है।

जवाद का क्या मतलब है?

जवाद एक अरबी शब्द है। इसका मतलब उदार या दयालु होता है। इसलिए माना जा रहा है कि तूफान ज्यादा खतरनाक नहीं होगा। हालांकि IMD ने 4 दिसंबर की सुबह हवा की अधिकतम रफ्तार 100 किलोमीटर प्रति घंटा होने का अनुमान लगाया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस तूफान का नाम सउदी अरब के सुझाव पर रखा गया है। पिछले साल आए अम्फान साइक्लोन के कारण लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort