स्वच्छता सर्वे की पूरी लिस्ट, इंदौर फिर नंबर-1

मध्य प्रदेश का इंदौर शहर लगातार चौथी बार देश का सबसे स्वच्छ शहर चुना गया है। दूसरे नंबर पर गुजरात का सूरत औ तीसरे नंबर पर नवी मुंबई रहा। केंद्रीय नगरीय विकास एवं आवास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इसका ऐलान किया। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंंद्र मोदी ने स्वच्छ महोत्सव कार्यक्रम के तहत उन लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की जिन्होंने स्वच्छ भारत अभियान में अहम भूमिका निभाई। बता दें, सबसे पहले सर्वेक्षण में देश के सबसे स्वच्छ शहर का पुरस्कार मैसूर को मिला था। उसके बाद से इंदौर लगातार तीन साल तक (2017, 2018, 2019) में शीर्ष स्थान पर रहा था। पढ़िए Swachh Survekshan 2020 LIVE Updates

Swachh Survekshan 2020 LIVE Updates: 25 हजार आबादी वाले शहरों में पाटन सबसे स्वच्छ। वहीं जसपुर ने 25 से 50 हजार आबादी वाली श्रेणी में मारी बाजी। 50 हजार से 1 लाख की आबादी वाले शहरों में धमतरी सबसे साफ। 1 लाख से 10 लाख की आबादी वाले शहरों में अंबिकापुर स्वच्छ शहर। स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में मध्य प्रदेश के चार शहर टॉप 20 में शामिल हुए हैं। इसमें पहले नंबर इंदौर शहर रहा है। सातवें नंबर पर भोपाल, 13वें पर ग्वालियर और 17वें पर जबलपुर रहा है। इंदौर में लगातार चौथी बार देश के सबसे स्वच्छ शहर का अवार्ड पाया है। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने सीएम शिवराज सिंह से बात करते हुए बताया कि जब एक बार वे इंदौर आए थे तो उनके जापानी मित्र ने उसने कहा था कि मैं शहर में गंदगी ढूंढने निकला था लेकिन मिली नहीं। केंद्रीय मंत्री पुरी ने कहा कि यह बहुत बड़ी उपलब्धि है जब दूसरे देश जहां सफाई को लेकर विशेष ध्यान दिया जाता है, वहां के लोग ऐसी बात कहें।

भोपाल सातवें नंबर पर

स्वच्छता सर्वेक्षण में इस बार भोपाल की रैंकिंग सुधकर 7वें नंबर पर आ गई है। पिछले साल यह 19वें नंबर पर था। इस बार भोपाल को 6 हजार में से 5066.31 अंक मिले हैं। इसके पहले हुए सर्वेक्षण में भोपाल को एक बार सबसे स्वच्छ राजधानी भी घोषित किया जा चुका है, लेकिन इस बार यह खिताब नहीं मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published.