सुरखी की पूर्व विधायक पारुल साहू कांग्रेस में शामिल; उपचुनाव में मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के सामने खड़ी हो सकती हैं

उपचुनाव से ठीक पहले भाजपा को हफ्ते भर के अंदर दूसरा बड़ा झटका लगा है। अब सुरखी की पूर्व विधायक पारुल साहू ने भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थाम लिया है। वह भाजपा के टिकट पर सुरखी से 2013 में चुनाव लड़ीं थी और मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को हराया था। 2018 में वह गोविंद सिंह राजपूत से मामूली अंतर से हार गई थीं।

माना जा रहा है कि कांग्रेस उन्हें सुरखी से एक बार फिर गोविंद सिंह राजपूत के सामने खड़ा कर सकती है। इससे पहले हाल ही में ग्वालियर से भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व विधायक सतीश सिकरवार भी कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं।

भोपाल में पार्टी कार्यालय पर पारुल साहू को कांग्रेस की सदस्यता दिलाने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा और शिवराज पर निशाने साधे। उन्होंने कहा कि शिवराज अपनी जेब में नारियल लेकर चलते हैं। वह जहां भी जाते हैं, नारियल फोड़ देते हैं और घोषणा कर देते हैं। उन्हें आज खुशी है कि पारुल साहू ने प्रदेश की वर्तमान तस्वीर देखकर और सच्चाई को पहचानते हुए कांग्रेस का साथ दिया है। इनका परिवार कांग्रेस से जुड़ा रहा है और आज इनकी घर वापसी हुई है।
‘प्रदेश का नाम बिकाऊ राजनीति में आने से शर्म आती है’

कमलनाथ ने कहा कि आज शर्म आती है, जब देश में मध्य प्रदेश का नाम बिकाऊ राजनीति के लिए आता है। भाजपा यह समझ ले कि कुछ नेता बिक जरूर सकते हैं, पर प्रदेश के ईमानदार मतदाताओं के ईमान को भाजपा कभी खरीद नहीं सकती। भाजपा ने प्रदेश में संविधान और प्रजातंत्र के साथ खिलवाड़ किया है। इसका फैसला जनता इस उपचुनाव में करेगी।
शिवराज किसानों को बीमा बांट रहे, लेकिन सच्चाई कुछ और…’

कमलनाथ ने कहा कि आज प्रदेश के नौजवानों के बारे में भाजपा नहीं सोच रही है। नौजवान रोजगार को लेकर भटक रहा है। आज पीड़ित किसान गुहार लगा रहा है, लेकिन सिर्फ गुमराह करने का काम जारी है। शिवराज जी, आज किसानों को फसल बीमा का पैसा बांटेंगे। सच्चाई यह है कि इसका प्रीमियम भी कांग्रेस सरकार ने ही जमा किया था और यह सिर्फ झूठी वाहवाही करेंगे।

परिवार में वापसी की: पारुल

कांग्रेस की सदस्यता लेने के बाद पारुल साहू ने कहा कि वह आज सुरखी विधानसभा क्षेत्र की जनता की आवाज बनकर अहंकार और डर के खिलाफ लड़ाई लड़ रही हैं। आज उनकी घर वापसी हुई है। वह अपने परिवार में वापस आई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.