सुखद खबरों का सिलसिला जारी 50 वर्ष से अधिक उम्र के 9 व्यक्तियों ने दी कोरोना को मात

भोपाल | आज फिर भोपाल में 42 व्यक्तियों ने कोरोना को मात दी। इनमें से 9 व्यक्ति ऐसे हैं जो 50 वर्ष से अधिक उम्र के है। ये अपने दृढ़ निश्चय, हिम्मत और हौसलें से कोरोना संक्रमण को हराकर आज अस्पताल से अपने घर के लिए रवाना हुए। इन सभी व्यक्तियों ने भोपालवासियों से मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने, जरूरत पड़ने पर फीवर क्लीनिक में जाकर अपनी जांच कराने के लिए अपील की। अपने सफल ईलाज के लिए उन्होंने शासन-प्रशासन और चिरायु अस्पताल को हार्दिक धन्यवाद दिया।
गहन चिकित्सा इकाई में रहकर अपनी हिम्मत और हौसलें से कोरोना को हराने वाली शिवाजी नगर निवासी 39 वर्षीय श्रीमती सरिता बेन ने अपने सफल ईलाज और बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के लिए शासन-प्रशासन और अस्पताल को हार्दिक धन्यवाद दिया। उन्होंने बताया उनकी स्थिति बहुत नाजुक थी। वे आईसीयू में रही है। वो कहती हैं कि सभी डॉक्टर्स, नर्स, सफाईकर्मी अगर इतनी निष्ठा और समर्पण से ईलाज नहीं करते तो हम सब आज अपने पैरो पर खड़े नहीं हो पाते।
चिरायु अस्पताल के डायरेक्टर श्री अजय गोयनका ने आज डिस्चार्ज हुए सभी व्यक्तियों को शुभकामनाएं दी और सात दिवस होम क्वॉरेंटाइन होने की समझाइश दी। उन्होंने अच्छा खानपान रखने और व्यायाम आदि से अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की अपील की।
आज डिस्चार्ज हुए सभी व्यक्तियों ने उन्हें नवजीवन देने के लिए शासन-प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई जा रही स्वास्थ्य सेवाओं के लिए हार्दिक धन्यवाद दिया। उन्होंने सभी भोपाल वासियों से अपील की कि कोरोना से डरे नहीं, इसका मुकाबला करे। बुजुर्ग व्यक्तियों गर्भवती महिलाओं और छोटी उम्र के बच्चों को संक्रमण का खतरा अधिक रहता है। ये सभी अनावश्यक बाहर निकलने से बचें। हमेशा मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। सर्दी,खांसी, गले में दर्द आदि होने लक्षण होने पर तुरंत समीप के फीवर क्लीनिक में जाकर अपनी जांच करें। हमारी सावधानी में ही हमारा बचाव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.