सीमा विवाद पर आर्मी चीफ / जनरल नरवणे ने कहा- चीन के साथ सटी सीमा पर स्थिति नियंत्रण में, नेपाल के साथ भी मजबूत रिश्ते

देहरादून. सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने शनिवार को चीन और नेपाल के साथ चल रहे सीमा विवाद को लेकर बयान दिया। नरवणे ने कहा कि मैं सभी को भरोसा दिलाता हूं कि चीन के साथ हमारी सीमाओं पर स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। हम लगातार संपर्क में हैं। कोर कमांडर स्तर की बातचीत हुई है और स्थानीय स्तर पर समकक्ष रैंक के कमांडरों की बैठकें जारी हैं। नरवणे शनिवार को देहरादून में इंडियन मिलिट्री एकेडमी (आईएमए) के पासिंग आउट परेड में हिस्सा लेने पहुंचे थे।

उन्होंने कहा कि नेपाल के साथ भी हमारे संबंध मजबूत हैं। हमारे बीच भौगोलिक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक और धार्मिक रिश्ते हैं और दोनों देशों के लोग आपस में जुड़े हैं। यह रिश्ते आगे भी मजबूत रहेंगे।

एक महीने से भारत और चीन के रिश्ते ठीक नहीं

लद्दाख के साथ सिक्किम में भारत और चीन की सेनाओं के बीच तनातनी चल रही है। दोनों देश के कोर कमांडरों के बीच बातचीत जारी है। इसके बाद, टकराव कम हुआ है। चीन ने बुधवार को कहा था कि दोनों देशों के बीच सेना पीछे हटाने को लेकर आपसी सहमति बन चुकी है। भारत पहले ही साफ कर चुका है कि दोनों देशों के बीच तनाव पूरी तरह तब खत्म होगा, जब चीन सीमा से 10 हजार सैनिकों को हटाएगा। इससे पहले मई के पहले हफ्ते में सिक्किम में भी भारत और चीन के सैनिक आमने-सामने आ गए थे।

भारत और नेपाल में सीमा विवाद चल रहा

भारत और नेपाल में सीमा विवाद के कारण रिश्ते तनावपूर्ण हैं। आठ मई को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिपूलेख से धाराचूला तक बनाई गई सड़क का उद्घाटन किया था। इसके बाद नेपाल ने लिपूलेख को अपना हिस्सा बताते हुए विरोध किया था। 18 मई को नेपाल ने नया नक्शा जारी किया। इसमें भारत के तीन इलाके लिपूलेख, लिम्पियाधुरा और कालापानी को अपना हिस्सा बताया।
भारत और नेपाल के बीच जारी सीमा विवाद के बीच शुक्रवार को अहम खबर सामने आई। नेपाल की तरफ से बिहार के जानकीनगर बॉर्डर पर फायरिंग हुई। इसमें एक युवक की मौत हो गई। तीन घायल हुए। दो लोगों की हालत गंभीर बताई गई है। जानकीनगर बिहार के सीतामढ़ी जिले में आता है। यहां भारत का सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) तैनात है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.