संक्रमण का बढ़ता दायरा / स्वास्थ्य मंत्रालय का अलर्ट- भोपाल में कोरोना के 5 नए स्पॉट बनने का खतरा; सूरज नगर, भोज यूनिवर्सिटी कैंपस में भी संक्रमण का खतरा

भोपाल. शहर के अयोध्या बायपास, कमला नगर और बैरागढ़ चीचली, सूरज नगर, भोज यूनिवर्सिटी कैंपस कोरोना के हॉट स्पॉट बन सकते हैं। इन क्षेत्रों को मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर ने ओरेंज जोन वाले इलाकों में शामिल किया है। संबंधित क्षेत्रों में कोरोना का संक्रमण रोकने सर्विलांस सैंपलिंग, संदिग्धों को क्वारेंटाइन और होम आईसोलेशन में रखा जाए। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को आरोग्य सेतु एप के डेटा के आधार पर मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ ने अलर्ट रहने को कहा है। साथ ही एप का उपयोग कर रहे मोबाइल उपभोक्ताओं को सेल्फ असेसमेंट रिपोर्ट के आधार पर अलर्ट मैसेज भेज दिया है। इसमें कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आने वाले मोबाइल उपभोक्ताओं को कोरोना टेस्ट कराने की सलाह भी दी गई है।

यहां पॉजिटिव मरीज कम, लेकिन अभी से संभलना जरूरी
सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि भोपाल के पांच अलग–अलग इलाकों को कोरोना हॉट स्पॉट में तब्दील होने का अलर्ट कोविड 19 नेशनल हेल्थ पोर्टल के मार्फत मिला है। इन क्षेत्रों में सर्विलांस की कार्रवाई आईडीएसपी की टीम कर रही है। हालांकि इन स्पॉट कोविड पाजिटिव मरीजाें की संख्या उतनी नहीं है।

एसिमटोमैटिक मरीजों के भी लिए जाएंगे सैंपल

शहर में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को काबू करने स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना कंट्रोल प्लान में बदलाव किया है। कोरोना के संक्रमण को रोकने अब सीवियर एक्यूट रेस्पेरिटरी इनफेक्शन (इलनेस – एसएआरआई) के मरीजों के सैंपल भी बिना काॅन्टैक्ट हिस्ट्री और ट्रेवल हिस्ट्री के भी लिए जाएंंगे, ताकि हाई रिस्क कैटेगरी में शामिल इन मरीजों और उनसे दूसरों को होने वाले कोविड इनफेक्शन को रोका जा सके। स्वास्थ्य विभाग ने कोविड कंट्रोल प्लान में यह बदलाव शहर में संचालित फीवर क्लीनिक्स की रिपोर्ट के आधार पर किया है। सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि शहर में 47 फीवर क्लीनिक का संचालन किया जा रहा है।
38 को कोविड हॉस्पिटल और 7 केयर सेंटर रैफर
रिपोर्ट के मुताबिक फीवर क्लीनिक्स में जांच और इलाज कराने आए 45 मरीजों को रैफर किया गया। इनमें से 38 मरीजों को कोविड हॉस्पिटल और 7 मरीजों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया है, जहां सभी की हालत स्थिर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *