शिवराज के सामने उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, कमलनाथ बोले – नियम सिर्फ गरीबों के लिये

भोपाल। रविवार, 24 मई 2020: कांग्रेस का दमन छोड़ भाजपा में शामिल हुए पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी के रायसेन के समर्थकों ने शनिवार को भोपाल कार्यालय में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान, सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के नियमों का उल्लंघन हुआ। जिसको लेकर राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो गई है।

दरअसल, शनिवार शाम को रायसेन जिले की सांची विधानसभा क्षेत्र के 200 कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भाजपा में शामिल होना था। इसे लेकर भोपाल में प्रदेश भाजपा कार्यालय में एक कार्यक्रम हुआ। इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी शामिल हुए। मुख्यमंत्री की मौजूदगी में 200 से ज्यादा कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाई गई। लेकिन, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया।

इसको लेकर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है। कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने निशाना साधते हुए कहा कि क्या मोदी जी के लॉकडाउन के नियम सिर्फ़ ग़रीबों , आमजन के लिये है , आपकी पार्टी के नेताओ पर यह नियम लागू नहीं होते है?

कमलनाथ ने अपने ट्वीट में लिखा- शिवराज जी कल कोरोना की समीक्षा के दौरान नियमों के पालन पर आप प्रदेशवासियों को सख़्त चेतावनी दे रहे थे। प्रदेश में आमजन के लिये इस लॉकडाउन में शादी समारोह हो या गमी हो संख्या तय है। सभी आमजन नियमों का पालन भी कर रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा, “वही आपके भाजपा कार्यालय में आज लॉकडाउन में आपकी व अन्य ज़िम्मेदार भाजपा नेताओ की उपस्थिति में एक भीड़भरा कार्यक्रम आयोजित होता है, नियमों का जमकर मखौल उड़ता है, सोशल डिस्टन्सिंग का ज़रा भी पालन नहीं होता है? इसके पूर्व भी ऐसा कई बार हो चुका है।”

बता दें कि बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने उपचुनाव में अकेले लड़ने का ऐलान करके बीजेपी और कांग्रेस को हैरानी में डाल दिया है। बीएसपी ने राज्य की सभी 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में अकेले लड़ने का फैसला किया है।

कमलनाथ ने नहीं लगाया मास्क –

कमलनाथ ने ट्वीट कर भाजपा पर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने का आरोप लगाया। उधर, कमलनाथ की अशोकनगर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ की एक तस्वीर सामने आई है। जिसमें वे खुद भी मास्क नहीं लगाए हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं।

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश में रविवार सुबह तक संक्रमित मरीजों आंकड़ा 6371 पर पहुंच गया है। स्थिति भयाभय होती नजर आ रही है। फिर भी प्रदेश की जनता को सीख दे रहे दिग्गज नेता एवं उनके कार्यकर्ता खुद सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नजर नहीं आ रहे। शनिवार को भोपाल में 51 नए पॉजिटिव मरीज मिले। यहां मरीजों की संख्या अब 1298 हो गई। उज्जैन में 170 सैंपल की जांच रिपोर्ट में 25 लोग पॉजिटिव आए हैं। यहां अब 550 संक्रमित हो गए हैं। इंदौर में शनिवार को 75 नए पॉजिटिव मिले। इसके बाद कुल मरीजों का आंकड़ा 3008 पर पहुंच गया। शनिवार को 713 सैंपल की जांच में 624 निगेटिव भी मिले। इंदौर मरीजों की संख्या के लिहाज से देश में सातवें नंबर पर पहुंच गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort