शाह ने कहा- 2014 से राज्य में परिवर्तन के लिए 100 से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं ने जान गंवाई, उनका त्याग ‘सोनार बांग्ला’ बनाने में काम आएगा

नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल में वर्चुअल (ऑनलाइन) रैली की। उन्होंने कहा कि 2014 से राज्य में परिवर्तन के लिए 100 से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं ने जान गंवाई, उनका त्याग ‘सोनार बांग्ला’ बनाने में काम आएगा। भाजपा के फेसबुक और ट्विटर पेज पर इस रैली का सीधा प्रसारण भी हुआ। शाह ने रविवार को बिहार में और सोमवार को ओडिशा में वर्चुअल रैली की थी।

भाजपा ने ममता के 9 साल के कार्यकाल पर पिछले हफ्ते 9 बिंदुओं का आरोपपत्र जारी किया था। पार्टी ने सोशल मीडिया पर ‘आर नोई ममता’ (ममता का शासन अब और नहीं) अभियान भी चलाया है।

शाह के भाषण की अहम बातें

बंगाल की धरती में कई महापुरुषों की धरती
इस भूमि में रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद, रवींद्रनाथ टैगोर जैसे अनेकानेक लोगों ने भारतीय लोगों को भारतीय संस्कृति को दुनिया में फैलाने का काम किया है। मैं बंगभूमि पर जन्मे सभी महान लोगों को प्रणाम करता हूं। कोविड और अम्फान के कारण जिन लोगों की जान गई है, उनकी आत्मा की चीर शांति के लिए मैं प्रभु से कामना करता है। 2014 से बंगाल के अंदर परिवर्तन के लिए 100 से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं ने जान गंवाई, उन सभी के परिवार को सलाम करना चाहता हूं। आपका त्याग सोनार बंगला के निर्माण में काम आएगा। जब कभी बंगाल का इतिहास लिखा जाएगा तो आपके परिवार के त्याग और बलिदान को याद किया जाएगा।

बंगाल हमारे लिए अहम
देश में 75 रैलियों के जरिए हमने देश की जनता और लोगों से संपर्क करने का अभियान चलाया है। इसका असर आने वाले समय में दिखाई देगा। भले ही भाजपा को देश भर में 300 से ज्यादा सीटें मिली हैं, लेकिन हमारे जैसे कार्यकर्ताओं के लिए बंगाल की 18 सीटें अहम है। हम बंगाल में सिर्फ राजनीतिक अभियान चलाने के लिए नहीं आए। हम यहां पर सोनार बंगाल बनाने के लिए आए हैं। हम ऐसे दल नहीं हैं, जो 10-10 साल तक सत्ता बैठे रहे और बाद में दूसरे पर आरोप लगाएं। हम सत्ता मिलने पर परिवर्तन लाने में विश्वास करते हैं।

बंगाल में 1000 वर्चुअल रैली करने की योजना
भाजपा सूत्रों ने बताया कि पार्टी बंगाल के हर हिस्से को कवर करने के लिए यहां 1000 वर्चुअल रैली करने की योजना बना रही है। उन्होंने कहा कि बीते 2 महीने से हमारे कार्यकर्ता घरों पर बैठे हैं। इस रैली से उनका मनोबल बढ़ेगा और राज्य की 294 सीटों पर अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए ऊर्जा मिलेगी। बंगाल में पिछले साल हुए आम चुनाव में भाजपा को 18 और सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस को 22 सीटें मिली थीं।

भाजपा का दावा- बिहार की रैली में कांग्रेस पर निशाना साधा
शाह ने रविवार को बिहार की वर्चुअल रैली में 35 मिनट भाषण दिया था। इसमें उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी ने लोकतंत्र का गला घोंटने की कोशिश की थी। इंदिरा अब नहीं हैं, लेकिन गरीबी वहीं की वहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो कहते हैं वो करते हैं। बिहार में इस साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं।

ओडिशा की रैली में कहा था- दो गज दूरी हमें जनता से दूर नहीं कर सकती
शाह ने सोमवार को ओडिशा की रैली में कहा था कि आज ये जो वर्चुअल रैली हो रही है वह भाजपा की परंपरा का अभिन्न अंग है। भाजपा जब से राजनीति में आई है, हम तब से जनता से संवाद करते रहे हैं और जनता की बात सरकार तक पहुंचाते रहे हैं। उन्होंने कहा था कि दो गज की दूरी भाजपा कार्यकर्ताओं को जनता से दूर नहीं कर सकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *