विशाखापट्नम में रसायन संयंत्र में जहरीली गैस के रिसाव से पांच लोगों की मौत , प्रधानमंत्री ने सुरक्षा और कुशलता के लिए की प्रार्थना

विशाखापट्नम। गुरुवार, 07 मई 2020: आंध्र प्रदेश के विशाखापट्नम में गुरुवार तड़के एक रसायन संयंत्र में जहरीली गैस रिसाव की घटना में आठ साल के बच्चे सहित कम से कम पांच लोगों की दम घुटने से मौत हो गई और 200 से अधिक लोगों को यहां विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया।

केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने गोपालपटनम इलाके के पास एलजी पॉलीमर्स रसायन संयंत्र में एक गैस के रिसाव से पांच लोगों की मौत ही पुष्टि की है।

जानकारी के अनुसार शहर केे किंग जॉर्ज अस्पताल (केजीएच) में इलाज के दौरान सभी पांचों की मौत हो गई। गैस रिसाव की सूचना मिलने के बाद एम्बुलेंस, अग्निशमन की गाड़ियां और पुलिसकर्मी रसायन संयंत्र में पहुंच गए हैं।

प्रारंभिक रिपोर्ट के अनुसार संयंत्र से जहरीली गैस लगभग तीन किलोमीटर के दायरे में फैल गई है। गैस के रिसाव से कम से कम पांच गांव प्रभावित हुए हैं। इस जहरीली गैस के चपेट में आने से 200 से अधिक लोग अचेत हुए हैं जिन्हें शहर के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

प्रधानमंत्री ने ली घटना की जानकारी –

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गृह मंत्रालय और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों से बात कर आन्ध्र प्रदेश के विशाखापट्नम में गैस रिसाव की घटना की जानकारी ली है और प्रभावित क्षेत्र के सभी लोगों की सुरक्षा और कुशलता की कामना की है। उन्होंने इस बारे में आपदा प्रबंधन अधिकारियों की एक बैठक भी बुलाई है।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा है कि विशाखापट्नम की स्थिति के बारे में गृह मंत्रालय और एनडीएमए के अधिकारियों के साथ बात की । वहां की स्थिति पर निरंतर नजर रखी जा रही है। मैं विशाखापट्नम में सभी की सुरक्षा और कुशलता के लिए प्रार्थना करता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.