वर्ल्ड कप मेडलिस्ट जिम्नास्ट का कोच पर आरोप

जानकारी दिए बिना फिजिकल फिटनेस टेस्ट का वीडियो बनाया, SAI ने जांच के आदेश दिए

जिम्नास्टिक वर्ल्ड कप में देश को पहला मेडल दिलाने वाली खिलाड़ी अरुणा रेड्‌डी ने स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) के कोच रोहित जायसवाल पर आरोप लगाया है कि बिना उनकी जानकारी के फिजिकल फिटनेस टेस्ट की वीडियोग्राफी की है। यह टेस्ट 24 मार्च को दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में किया गया था।

अरुणा ने भास्कर को बताया, ‘मैं पिछले दो माह से फेडरेशन को पत्र लिखकर वीडियो मांग रही थी। जिसके जवाब में तीन दिन पहले 24 मई को फेडरेशन ने बताया कि हमारे पास ऐसा कोई वीडियो नहीं है। हमने ऐसा कोई वीडियो नहीं बनवाया। मैंने इसकी साई से शिकायत की है।’

फेडरेशन ने दो माह बाद रिप्लाई किया
अरुणा कहा कि जिम्नास्टिक फेडरेशन ऑफ इंडिया ने बाकू वर्ल्ड कप से पहले 24 मार्च को फिटनेस टेस्ट करवाया था। इस कमेटी में दीपा कर्माकर के कोच बीएस नंदी, रोहित जायसवाल, अशोक मिश्रा शामिल थे। उस दौरान कोच रोहित जायसवाल ने वीडियो भी बनाया था। कमेटी ने मुझे अनफिट घोषित किया था और वजह बताई थी कि घुटने में ज्यादा दर्द है। मैंने वीडियों मांगी थी, ताकि मैं अपने डॉक्टर से दिखा सकूं और उस आधार पर आगे मेरा इलाज हाे सके। मैंने बार-बार फेडरेशन से वीडियो देने का अनुरोध किया था। कई मेल भी किए, पर जवाब 2 महीने बाद 24 मई को आया और मुझे पता चला कि फेडरेशन की ओर से कोई वीडियो नहीं बनवाई गई थी।

उस टेस्ट के कारण मैं बाकू विश्वकप नहीं खेल सकी
अरुणा ने कहा कि टेस्ट के बाद मेरे घुटने का दर्द बढ़ गया है और मैं बाकू वर्ल्ड कप में हिस्सा नहीं ले सकी, क्योंकि मेरे घुटने का ट्रीटमेंट चल रहा था। मेरा दर्द भी कम हो गया था। लेकिन, टेस्ट के बाद मेरा दर्द बढ़ गया।

दो कोचों में मनमुटाव है मामले के पीछे
इस पूरे मामले के पीछे दो कोचों का मनमुटाव है। रोहित जायसवाल इंदिरा गांधी स्टेडियम में डेप्युटेशन पर कोच हैं। वे BSF में नौकरी करते हैं। उनकी अरुणा के कोच मनोज राणा से नहीं बनती है। इसलिए वे नहीं चाहते कि अरुणा के माध्यम से मनोज की SAI में एंट्री हो। इसी कारण रोहित ने अरुणा का फिजिकल फिटनेस टेस्ट कराया था।

जांच के लिए तीन सदस्सीय कमेटी गठित, राधिका लीड करेंगी
SAI ने एक स्टेटमेंट जारी कर बताया है कि इस मामले की जांच के लिए तीन सदस्सीय कमेटी बना दी गई है। कार्यकारी निदेशक राधिका श्रीमान (टीम डिविजन) को कमेटी का हेड बनाया गया है। SAI के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि हमने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच पैनल बनाया है। जो एक हफ्ते में मामले की विस्तृत रिपोर्ट देगा।

यह है पूरा मामला
24 मार्च को SAI के हेड ऑफिस और जिमनॉस्टिक सेंटर में अरुणा रेड्‌डी का फिजिकल फिटनेस टेस्ट हुआ। उनका यह टेस्ट 10 मिनट तक चला। SAI कोच रोहित जायसवाल ने इस टेस्ट का वीडियो बनाया। हालांकि, अरुणा टेस्ट में फेल हो गईं। जब अरुणा ने अपने पर्सनल डॉक्टर को दिखाने के लिए GFI से वीडियो मांगा तो कई मेल करने के बाद जवाब दिया कि हमने कोई टेस्ट करने के निर्देश नहीं दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort