लोकायुक्त की कार्रवाई:भोपाल में जीएमसी का डॉक्टर लालवानी रिश्वत लेते गिरफ्तार,

मध्यप्रदेश लोकायुक्त ने मेडिकल कॉलेज के फोरेंसिक मेडिसिन विभाग के डॉक्टर मुरली लालवानी को रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा है। उन्होंने एमडी फाइनल ईयर में पास कराने के लिए डेढ़ लाख रुपयों की मांग की थी। सोमवार दोपहर फरियादी के 40 हजार रुपए देते ही टीम ने उसे ट्रैप कर लिया। इसके बाद दो और अन्य छात्रों ने लालवानी पर रुपए मांगने की शिकायत की है।
नरवर जिला शिवपुरी निवासी डॉ.यशपाल सिंह ने पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त को शिकायत की थी। एसपी मनु व्यास ने बताया कि जांच में तथ्य सही पाए गए। इसके बाद टीम ने दोपहर करीब साढ़े 11 बजे जीएमसी भोपाल के फोरेंसिक मेडिसिन विभाग में विभाग अध्यक्ष डॉ. मुरली लालवानी को यशपाल से 40 हजार रुपए लेते रंग हाथ पकड़ा। टीम ने उन्हें विभाग अध्यक्ष के कक्ष से ही गिरफ्तार किया।

जीएमसी के फोरेंसिक मेडिसिन विभाग में है
यशपाल ने बताया कि वह गांधी मेडिकल कॉलेज (जीएमसी) के फोरेंसिक मेडिसिन विभाग एमडी फाईनल ईयर में है। विभाग अध्यक्ष डॉ. मुरली लालवानी ने पास करने के लिए डेढ़ लाख रुपए की मांग की थी। यह रुपए पोस्टमार्टम लीगल वर्क के लिए सरकार से पिछले वर्षों में गृह विभाग से मिले थे। लालवानी यही रुपए मांग रहे थे। लालवानी ने धमकाया कि पीएम परीक्षा करता हूं। 1.5 लाख रुपए नहीं देने पर फेल कर दूंगा। यशपाल के साथ ही 2 अन्य पीजी छात्रों डॉ. अशोक यादव और डॉ. संजय जैन ने भी लालवानी की रुपए मांगने की शिकायत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort