राजधानी में 2534 केस / भोपाल में 37 नए मरीज मिले; अमेरिका बस्ती लामाखेड़ा में एक ही परिवार के 8 सदस्य संक्रमित, राजभवन में फिर से एक पॉजिटिव

भोपाल. मंगलवार को भोपाल में कोरोना के संक्रमण के 37 नए मरीज मिले हैं। अमेरिका बस्ती लामाखेड़ा में एक ही परिवार के आठ लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें 8 साल की एक बच्ची भी शामिल है। भोपाल में अब मरीजों की संख्या बढ़कर 2534 हो गई है। अब तक जिले में कोरोना से 88 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। वहीं, मंगलवार को 26 मरीज कोरोना संक्रमण को मात देकर घर लौट गए। जिले में अब तक 1815 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

सीएमएचओ कार्यालय की तरफ से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, मंगलवार को राजभवन में फिर एक नया केस मिला है। सोमवार को भी यहां पर 3 सुरक्षाकर्मी संक्रमित मिले थे। अब तक राजभवन में 16 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इसके साथ ऐशबाग 4, शाहजहानाबाद 3, जहांगीराबाद, आचार्य नगर और कल्याण नगर क्षेत्र से एक-एक कोरोना संक्रमित मिले हैं।

यहां पॉजिटिव मरीज कम, लेकिन अभी से संभलना जरूरी
सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि भोपाल के पांच अलग-अलग इलाकों को कोरोना हॉटस्पॉट में तब्दील होने का अलर्ट कोविड 19 नेशनल हेल्थ पोर्टल के मार्फत मिला है। इन क्षेत्रों में सर्विलांस की कार्रवाई आईडीएसपी की टीम कर रही है। हालांकि, इन स्पॉट कोविड पाॅजिटिव मरीजाें की संख्या उतनी नहीं है, जहां पर संक्रमण फैलने का खतरा है। वहां पर अयोध्यानगर 5, कमलनानगर 6, सूरजनगर 2 और बैरागढ़ चिचली में 2 मरीज मिले हैं। इसके साथ भोज यूनिवर्सिटी कैंपस पर भी संक्रमण का खतरा बताया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- पॉजिटिव से ठीक होने वालों की संख्या ज्यादा
स्वास्थ्य एवं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को कहा कि मध्यप्रदेश में रिकवरी रेट 76 प्रतिशत हो गया है। स्वास्थ्य सेवाओं में लगातार सुधार हो रहा है। सोमवार को 175 नए केस आए। वहीं, 200 से ज्यादा लोग स्वस्थ होकर घर गए हैं। पॉजिटिव केस से ठीक होने वालो की संख्या ज्यादा है। हर दिन राज्य में 6 से 7 हजार टेस्टिंग की जा रही है।

भोपाल को मॉडल बनाकर होगा घर-घर सर्वे
गैस पीड़ितों की कोरोना से सबसे ज़्यादा मौतें होने पर स्वास्थ्य मंत्री मिश्रा ने कहा कि भोपाल को मॉडल बनाकर अगले हफ्ते से घर-घर जाकर सर्वे होगा। सभी टीम एक ही दिन में सभी वार्डो में जांच करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.