मप्र पुलिस की बेरहमी का मामला :गृहमंत्री ने कहा- मध्य प्रदेश में कानून का राज है, गुना की घटना दुर्भाग्यपूर्ण हमने तुरंत एक्शन लिया है

मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मध्यप्रदेश में कानून का राज है, जो लापरवाही करेगा उसे बख्शा नहीं जाएगा। भोपाल में मीडियो से बातचीत में गृहमंत्री ने कहा कि, ‘कांग्रेस ने हमेशा से गरीबों और किसानों को छला है। गरीबी हटाओ का नारा देकर दशकों तक राज किया और देश में गरीबों की संख्या बढ़ती चली गई। किसानों को कर्ज माफी का वचन देकर मध्यप्रदेश में 15 महीने सरकार चलाई, लेकिन वादा भूल गई। गुना की दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर हमने तुरंत एक्शन लिया है।

उन्होंने कहा मध्यप्रदेश में कानून का राज है, जो लापरवाही करेगा, उसे नाप दिया जाएगा। गुना में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना की जानकारी मिलते ही हमने त्वरित कार्रवाई की। ये राहुलगांधी की कांग्रेस सरकार नहीं है, जहां अधिकारी प्रीपेड व्यवस्था से नियुक्त होते थे ’।

कांग्रेस ने घटना की जांच के लिए टीम बनाई, कल करेगी जांच

गुना में दलित परिवार की एमपी पुलिस द्वारा बेरहमी से की गई पिटाई और दुर्व्यवहार की घटना की जांच के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने एक जांच टीम बनाई है। ये टीम कल यानि 17 जुलाई को गुना पहुंचकर पूरे मामले की जांच करेगी ओर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। कांग्रेस का कहना है कि दलित परिवार के साथ वीभत्य तरीके से पुलिस द्वारा पिटाई की गई और उनके परिवार की महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार किया गया। यह अत्यंत निंदनीय है और दलित दंपती ने जहर खा लिया, जो अत्यंत दुखद है।

जांच दल में पूर्व मंत्री और प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष शामिल
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा बनाई गई जांच कमेटी में पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन, पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह, फूल सिंह बरैया, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी, जयस के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरा अलावा और विभा पटेल शामिल हैं। ये टीम जांच करके अपनी रिपोर्ट कमलनाथ को सौंपेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *