मंत्रियों ने कहा- हमारी प्राथमिकता कोरोना संकट से प्रदेश को निजात दिलाना

भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)।Shivraj Cabinet : 29 दिनों से प्रदेश में अकेले सरकार चला रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का मंत्रिमंडल मंगलवार को बन गया। राज्यपाल लालजी टंडन ने राजभवन के सांदीपनि सभागार में सादे समारोह में डॉ. नरोत्तम मिश्रा, तुलसी सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत, मीना सिंह और कमल पटेल को मंत्री पद की शपथ दिलाई। कोरोना संक्रमण के चलते सीमित व्यक्तियों की मौजूदगी में शपथ ग्रहण समारोह हुआ। सभी मंत्रियों ने एक सुर में कहा कि हमारी प्राथमिकता कोरोना संकट से प्रदेश को निजात दिलाने की है। सभी ने कहा कि वे मुख्यमंत्री के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करेंगे।

फिलहाल इन मंत्रियों को प्रदेश के 10 संभागों में से प्रत्येक को दो-दो संभागों की जिम्मेदारी दी गई है। उनके पास फिलहाल कोई खास विभाग नहीं होंगे।

सिंधिया समर्थक सिलावट और राजपूत बने मंत्री
उम्मीद के मुताबिक ही कोरोना संकट को देखते हुए शिवराज मंत्रिमंडल छोटा ही रखा गया है। इसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक दो मंत्री शामिल किए गए हैं। तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को सिंधिया का सबसे भरोसेमंद माना जाता है। पूर्ववर्ती कमल नाथ सरकार में भी दोनों मंत्री थे। वहीं, डॉ. नरोत्तम मिश्रा, कमल पटेल और मीना सिंह पहले भी मंत्री रह चुके हैं।

शपथ लेते ही कैबिनेट बैठक शपथ ग्रहण के बाद सभी नवनियुक्त मंत्री सीधे मंत्रालय पहुंचे, जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में कैबिनेट की पहली बैठक हुई। शपथ ग्रहण कार्यक्रम में शारीरिक दूरी का पालन किया गया। कार्यक्रम का संचालन मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने किया। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत, पूर्व मंत्री संजय पाठक, विधायक मोहन यादव, पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी सहित गिने चुने नेता व अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort