भोपाल में बैंक में चोरी:शटर तोड़कर चोर अंदर घुसे, सीसीटीवी के तार काटे; गैस कटर से एटीएम तोड़कर साढ़े 7 लाख रुपए चुरा ले गए

भोपाल में आईडीबीआई बैंक की एक शाखा में चोर घुसकर एटीएम तोड़कर करीब साडे 7 लाख रुपए चुरा ले गए। चोर शटर के ताले तोड़कर अंदर घुसे और सबसे पहले उन्होंने सीसीटीवी के तार काट दिए। अंधेरा होने के कारण वह ठीक से सीसीटीवी कैमरे में कैद नहीं हो पाए। घटना शुक्रवार तड़के की बताई जाती है, जबकि सोमवार को बैंक खुलने के बाद घटना का खुलासा हो सका।

थाना प्रभारी ईटखेड़ी करण सिंह ने बताया कि निपानिया जाट में आईडीबीआई बैंक की एक शाखा है। बैंक के अंदर ही एटीएम मशीन लगी हुई है। आज सुबह बैंक कर्मचारी जब ऑफिस पहुंचे, तो उन्हें बैंक के शटर के ताले टूटे मिले। एटीएम मशीन भी टूटी मिली। कर्मचारियों ने बैंक मैनेजर समेत अधिकारियों को घटना की सूचना दी। उसके बाद पुलिस को बुलाया गया। एटीएम में से कैश गायब था। मशीन को गैस कटर से काटा गया था। अकाउंट चेक करने के बाद बैंक कर्मचारियों ने बताया कि एटीएम से साढ़े 7 लाख रुपए गायब हैं। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ चोरी का प्रकरण दर्ज किया है।
मैन रोड पर होने के बाद भी किसी की नजर नहीं पड़ी

थाना प्रभारी करण सिंह ने बताया कि बैंक मैन रोड पर बना हुआ है। इसमें एटीएम मशीन भी अंदर लगी हुई है। बैंक के खुलने और बंद होने के समय ही एटीएम खुला रहता है। बाकी समय वह बंद रहता है। इस कारण यहां पर किसी का ध्यान नहीं दिया। एटीएम भी बैंक के खुलने और बंद होने के समय ही चलता है। इसलिए रविवार होने के कारण कोई उस तरफ गया ही नहीं। ऐसे में वहां चोरी की पता नहीं चल सका।
बैंक में घुसते ही सबसे पहले सीसीटीवी के तार काटे

घटना शनिवार सुबह करीब 3 बजे की बताई जाती है। अंधेरा होने के कारण सीसीटीवी में कुछ भी साफ रिकॉर्ड नहीं हुआ। बस धुंधला सा एक व्यक्ति अंदर आकर तार काटते हुए दिखा। थाना प्रभारी करण सिंह ने बताया कि जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया है, वह पूरी प्लानिंग के तहत चोरी की गई है। चोरों को बैंक के बारे में पूरी जानकारी थी। उन्होंने सिर्फ एटीएम को ही निशाना बनाया। समय भी ऐसा निर्धारित किया गया, ताकि एक-दो दिन किसी को पता ही ना चले।

सिस्टम पर भी सवाल

सभी एटीएम कंपनी के सर्वर से जुड़े होते हैं। ऐसे में एटीएम में किसी भी तरह की बाहरी या आंतरिक छेड़छाड़ होने पर आटोमैटिक जनरेट एसएमएस कंपनी तक पहुंच जाता है। सवाल यह उठता है कि क्या यहां पर यह सिस्टम नहीं था। या थो तो फिर रविवार सुबह ही इसका पता क्यों नहीं चला। पुलिस ने बैंक से एटीएम और पुराने सीसीटीवी फुटेज मांगे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort