भोपाल में खुदकुशी:20 साल की नवविवाहिता ने 4 मंजिला बिल्डिंग की छत से छलांग लगाई; 4 घंटे बाद मौत, 6 महीने पहले शादी हुई थी

भोपाल में एक नवविवाहिता ने 4 मंजिला बिल्डिंग की छत से छलांग लगा दी। गंभीर हालत में परिजन उसे अस्पताल ले गए, जहां 4 घंटे बाद उसकी मौत हो गई। उसकी 6 महीने पहले ही शादी हुई थी। वारदात के वक्त उसके साथ, ससुर और परिजन फ्लैट में थे।

शाहजहांनाबाद पुलिस के अनुसार मूलत: सीहोर की रहने वाली 20 वर्षीय अंजलि जाटव की शादी लॉकडाउन के दौरान बाजपेई नगर ईदगाह हिल्स निवासी राकेश जाटव से हुई थी। शनिवार दोपहर करीब 12:30 बजे अंजलि बिल्डिंग की छत पर पहुंची और वहां से छलांग लगा दी। उसके नीचे गिरने के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई और उसे तत्काल परिजन अस्पताल ले गए।

करीब 4 घंटे तक जिंदगी और मौत से लड़ने के बाद आखिरकार अंजलि ने दम तोड़ दिया। पुलिस को घटना की सूचना हमीदिया अस्पताल से मिली। पुलिस ने शव बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए रखवा दिया। पुलिस को ना तो मौके से कोई सुसाइड नोट ही मिला और ना ही मरने के पहले अंजलि के कोई बयान ही हो पाए। ऐसे में पुलिस सुसाइड के कारणों का पता नहीं लगा पाई है।

छह महीने पहले शादी हुई थी

पुलिस के अनुसार अंजलि की शादी 6 महीने पहले लॉकडाउन के दौरान राकेश से हुई थी। राकेश एमपी नगर स्थित एक होटल में प्राइवेट जॉब करता है। राकेश ने ही पुलिस को बताया कि अंजलि ने छत से छलांग लगाई। अब पुलिस मामले की जांच के लिए आसपास के लोगों से और अंजलि के परिजनों से पूछताछ कर रही है। हालांकि अब तक किसी ने भी पुलिस को कुछ नहीं बताया है।

मामले की जांच CSP द्वारा की जाएगी

अंजलि की शादी छह महीने पहले ही हुई थी। ऐसे में यह मामला नवविवाहिता की मौत से जुड़ा हुआ है। इस कारण इस मामले की जांच CSP या उसी रैंक के अधिकारी द्वारा की जाएगी। शादी होने के 7 साल तक महिला को नवविवाहिता माना जाता है और इसकी जांच का जिम्मा CSP के पास होता है। ऐसे में मृतका के परिजन अगर ससुराल वालों पर दहेज की मांग किए जाने की शिकायत करते हैं, तो मामला दहेज हत्या का बनता है। उसी के अनुसार इसमें जांच की जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *