भोपाल के बड़ा तालाब में 24 घंटे में जान देने के इरादे से कूदी दूसरी युवती, गोताखोरों ने बचाकर हमीदिया अस्पताल भेजा

भोपाल के बड़ा तालाब में कूदकर आत्महत्या के प्रयास की 24 घंटे के अंदर दूसरी घटना सामने आई। इस बार फिर एक युवती ने राजाभोज सेतु के सामने से बड़ा तालाब में छलांग लगा दी। युवती को गोताखोरों ने बचा लिया है और बेहोशी की हालत में हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया है। युवती बागसेवनिया क्षेत्र की बताई जा रही है। पुलिस ने परिजनों को सूचना दी है, लेकिन अब तक कोई परिजन अस्पताल नहीं पहुंचा है। पुलिस जांच में जुटी है।

इससे पहले मंगलवार को बड़े तालाब में खुदकुशी करने के इरादे से पहुंची एक युवती को गोताखोरों और पुलिस ने बचा लिया। वह पहले भी एक बार तालाब में छलांग लगाकर खुदकुशी की कोशिश कर चुकी है। हालांकि उसे बचा लिया गया था।

नगर निगम के गोताखोर शेख आसिफ ने बताया कि रेणु यादव (26) 12 बजे दोपहर में आई और राजा भोज सेतु की तरफ से कूद गई। मैं और मेरे साथी मजहर फौरन मौके पर पहुंचे और युवती को बाहर निकाल लिया, वह गहरे में जाने की वजह से पानी पी गई थी, लेकिन उसकी सांसे चल रही थीं। हमने तलैया पुलिस को इसकी सूचना दी।

वीआईपी रोड से राजा भोज सेतु तक जाली लगवाने की जरूरत

भोपाल के बड़ा तालाब में कूदकर आत्महत्या की कोशिश की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। इसे रोकने के लिए प्रशासन और पुलिस असफल साबित हुई है। भोपाल के बड़े तालाब में कूदने की 90 फीसदी से ज्यादा घटनाएं राजा भोज सेतु की तरफ से होती हैं।

तलैया थाना और कोहेफिजा थाना पुलिस ने साल भर पहले प्रशासन को पत्र लिखकर वीआईपी रोड पंप हाउस से लेकर सेतु तक 2 से 3 फीट जाली लगवाने का अनुरोध किया था। पुलिस का मानना है कि ऐसा करने से यहां पर लोगों को कूदने से रोका जा सकेगा। जिससे आत्महत्या के प्रयास की घटनाएं रुक जाएंगी, लेकिन प्रशासन ने अजीबोगरीब तर्क देते हुए पुलिस से कहा था कि इससे तालाब की खूबसूरती खराब हो जाएगी, इसलिए यहां पर जाली नहीं लगवा सकते हैं। इसके बाद से खुदकुशी के प्रयास की सैकड़ों घटनाएं हो चुकी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort