भोपाल कलेक्टर का नया आदेश; झांकी, रैली, जुलूस और ताजियों के साथ सार्वजनिक रूप से कोई भी आयोजन नहीं होंगे

भोपाल. भोपाल में कलेक्टर अविनाश लवानिया के नए निर्देश के बाद अब अगस्त के साथ ही सितंबर में भी कोई सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं हो पाएंगे। इसके बाद न तो गणेश प्रतिमाएं ही बैठ पाएंगी और न ही ताजिए आदि ही निकल सकेंगे। पहले यह रोक सिर्फ अगस्त में ही जारी की गई थी। इस संबंध में लवानिया ने सोमवार रात नए आदेश जारी कर दिए। इसमें कहा गया कि कोविड-19 की रोकथाम एवं बचाव के लिए आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। कोई भी धार्मिक कार्य, त्योहार का आयोजन सार्वजनिक स्थलों पर नहीं किया जाएगा। न ही कोई धार्मिक जुलूस या रैली निकाली जाएगी। इन आयोजनों और त्यौहारों पर पड़ेगा इसका असर
सार्वजनिक स्थानों पर किसी प्रकार की मूर्ति, झांकी एवं ताजिए आदि स्थापित नहीं किए जाएंगे। लवानिया ने कहा कि लोग अपने घरों में पूजा, उपासना करें। कोविड 19 की रोकथाम और बचाव के लिए यह आवश्यक है। इसमें कहा गया है कि 22 अगस्त को गणेश उत्सव, 1 सितंबर तक पर्यूषण पर्व, 29 अगस्त को डोल ग्यारस एवं कत्ल की रात, 30 अगस्त मोहर्रम, 1 सितंबर से 20 दिन चतुर्दशी, श्राद्ध पक्ष और 17 सितंबर को पितृ मोक्ष अमावस्या के त्यौहार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.