नोएडा में कोरोना के दो नए मरीज, सोसायटियों में भय, घरों में कैद हुए लोग

नोएडा में कोरोना वायरस के दो नए पॉजेटिव मामले मिले। नोएडा का यह तीसरा मामला है। दो नए मामलों की वजह से आसपास की सोसायटीवाले डर गए हैं। दुकानें बंद हैं, लोग घरों में कैद।
राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में मंगलवार को कोरोना के दो नए मामले सामने आए हैं। कोरोना पॉजेटिव दोनों शख्स अलग-अलग सोसायटियों में रह रहे थे, जिससे लोग जबर्दस्त दहशत में आ गए हैं। डर इतना है कि सोसायटीज के पास दुकानें बंद हो गई हैं। लोग घरों से नहीं निकल रहे हैं। शहर में अब तक कोरोना वायरस के 3 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। इसमें से दो मरीज की पुष्टि मंगलवार को हुई है। दोनों मरीज को आइसोलेट वार्ड में भर्ती करवा दिया गया है।
दोनों मरीजों को स्वास्थ्य विभाग ने जेम्स में भर्ती करवाया है। अफसरों के मुताबिक, इसमें एक महिला और एक पुरुष है। कुछ दिन पहले दोनों फ्रांस से सफर करके लौटे हैं। सीएमओ डॉ अनुराग भार्गव ने बताया कि फिलहाल दोनों सोसायटीज में सैनिटाइजेशन किया जा रहा है। इसके साथ ही लोगों को भी सतर्कता बरतने की सलाह दी जा रही है।
पढ़ें- तीसरी मौत, मुंबई में कोरोना मरीज ने दम तोड़ा
सेक्टर-100 की सोसायटी की रहने वाली एक महिला कुछ दिन पहले फ्रांस से लौटी थी। महिला में कोरोना वायरस के लक्षण मिलने बाद सीएमओ ने पहले ही उन्हें जेम्स में भर्ती करवाकर सैंपल जांच के लिए दिल्ली भेज दिया। मंगलवार को महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, जिसके बाद पूरी सोसायटी डर गई। रेजिडेंट्स ने सोसायटी में काम करने वालों की एंट्री बंद कर दी है। सैनिटाइजेशन का काम तेजी से चल रहा है।
पढ़ें- कोरोना: मास्क, मोबाइल..10 सवाल, ये जवाब
दूसरा मामला सेक्टर-78 का है। वहां के शख्स की रिपोर्ट मंगलवार को पॉजिटिव आई है। पॉजिटिव रिपोर्ट की सूचना मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग के हाथ-पांव फूल गए। सीएमओ ने मंगलवार सुबह को कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज को जेम्स में भर्ती करवा दिया है।
कोरोना से बचाने वाला Home Quarantine क्या है?
देश में फैलते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए जरूरी है कि सरकार के साथ आम जनता भी कुछ नियमों का पालन करे। ऐसे में अगर किसी को लगता है कि वह संक्रमित लोगों के संपर्क में आया है तो होम क्‍वारंटीन के जरिए वह खुद को और दूसरों को सुरक्षित कर सकता है।
सोसायटी के बाजार बंद, लोग घरों में कैद
कोरोना वायरस के मरीज सामने आने के बाद सेक्टर-100 के आसपास की सोसायटियों में दहशत का माहौल है। एओए ने सोसायटी के पास लगने वाले सप्ताहिक बाजार को बंद करवा दिया है। इसके साथ ही सोसायटी के काम करने वाले लोगों की एंट्री भी बैन कर दी गई। कोरोना के डर के वजह से लोग रेजिडेंट अपने कमरों में कैद हो गए हैं।
​बीजेपी सांसद राजकुमार चाहर
​बीजेपी सांसद राजकुमार चाहर
राजकुमार चाहर बीजेपी से लोकसभा सांसद हैं। वह फतेहपुर सीकरी से MP हैं।
टोपी पर लिखा था ‘नमस्ते करो’
कोरोना वायरस के खिलाफ जागरूक करने के लिए राजकुमार टोपी पहनकर आए थे। इसपर लिखा था, ‘करो ना हैंडशेक, करो नमस्ते’
​संसद में मास्क संग दिखे थे सांसद
हाल ही में चर्चा के दौरान लोकसभा में सांसद मास्क लगाकर पहुंचे थे। नवनीत रवि राणा ने मास्क लगाकर ही संसद मे सवाल पूछा था।
​​​सैनिटाइजर लेकर घूम रहे सांसद
कोरोना फैलने के बाद से ही सांसद जेब में सैनिटाइजर लेकर घूम रहे हैं। बीजेपी सांसद के जे अल्फोंस की एक तस्वीर। (फाइल फोटो)

सोमवार की रिपोर्ट के मुताबिक, जिले में अब तक 1362 लोग विदेश से वापस लौट चुके हैं। इसमें से स्वास्थ्य विभाग ने 1048 को सर्विलांस कर चुका है। सीएमओ डॉ. अनुराग भार्गव के मुताबिक अब तक 187 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। इसमें 136 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आ गई है। बाकी लोगों के रिपोर्ट का इंतजार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort