दूसरे राज्यों से कड़ा होगा MP का कानून:लव जिहाद के आरोपी की संपत्ति जब्त करने और परित्यक्ता को गुजारा भत्ता देने के प्रावधान जोड़े जाएंगे

भोपाल.मध्य प्रदेश में धर्मांतरण के लिए होने वाली शादियों पर अंकुश लगाने के लिए धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 जल्द ही मंजूरी के लिए कैबिनेट में रखा जाएगा। इसे और सख्त बनाने के लिए ‘लव जिहाद’ के आरोपी की संपत्ति जब्त करने और गुजारा भत्ते का प्रावधान भी जोड़ने पर विचार किया जा रहा है।

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जिस तरह से तलाक होने के बाद गुजारा भत्ता परित्यक्ता को दिया जा सकता है। वे संस्थाएं जो शादी कराती हैं, जो दान लेती हैं, दान देती हैं। उन सबका रजिस्ट्रेशन कैंसिल किया जाएगा। पादरी, गुरु, मौलवी जो ये शादी निकाह कराते हैं, उनको भी सजा का प्रावधान कर रहे हैं। इस तरह के नए विचारों पर चर्चा हो रही है। कई विषय विचाराधीन हैं। कानून दूसरे प्रदेशों से सख्त होगा।

शौर्य और सहिष्णुता का दिन है आज

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि ‘आज बहुसंख्यक हिंदू समाज के धैर्य, शौर्य और सहिष्णुता का दिन है। इसी के चलते अयोध्या में श्री रामजन्म भूमि पर हम सबके मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के भव्य मंदिर का शिलान्यास संभव हो पाया है।’

कमलनाथ पर निशाना- खत से जी भरता ही नहीं
खत से जी भरता ही नहीं, अब नैन मिले तो चैन मिले। माननीय कृपा करो मध्य प्रदेश तो आओ, ट्वीट करते हैं और सो जाते हैं। कब तक खत लिखते रहेंगे। कभी अपने काम के बारे में भी लिखें। माननीय कृपा करके अपना पूरा किया काम बताएं। गृहमंत्री मिश्रा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आजकल सिर्फ ट्वीट करने और चिट्ठियां लिखने तक ही सीमित हैं। वे प्रदेश में विपक्ष के नेता हैं इसलिए उन्हें जनता से सीधा संवाद भी करना चाहिए। उन्हें कभी एकाध पत्र ऐसा भी लिखना चाहिए जिसमें वे कांग्रेस सरकार की कुछ उपलब्धियां भी तो बताएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *