दिग्विजय बोले- आर्मी के अफसरों और जवानों को निहत्थे जाने के आदेश थे, प्रधानमंत्री सामने आकर जवाब दें

भोपाल. लद्दाख की गलवान घाटी में भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच झड़प पर सिसायत तेज हो गई। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बाद अब मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और उनके विधायक बेटे जयवर्धन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले में स्थिति स्पष्ट करने को कहा है। बुधवार सुबह भोपाल क्राइम ब्रांच में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ एडिटेड वीडियो वायरल करने की शिकायत के बाद दिग्विजय सिंह ने बड़ा दावा किया है। उन्होंने कहा- ऊपर के निर्देश पर आर्मी के अफसरों और जवानों को निहत्थे जाने के निर्देश दिए गए। जब वे निहत्थे गए, तो इस घटना में शहीद हुए। चीन ने हमारे देश में प्रवेश किया है। उनके बारे में आज तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ नहीं कहा है। उन्हें सामने आकर जवाब देना चाहिए।
जयवर्धन बोले- सबसे ज्यादा अफसोस यह कि प्रधानमंत्री अब तक मौन
भोपाल की क्राइम ब्रांच में दिग्विजय सिंह के आने के पहले उनके विधायक बेटे जयवर्धन सिंह ने चीन से हिंसक झड़प को अफसोसजनक बताया। उन्होंने कहा- बहुत ही दुखद है, लेकिन इससे ज्यादा अफसोस इस बात का है कि देश के प्रधानमंत्री घटना के घंटों बाद भी मौन हैं। उनकी तरफ से अब तक कोई बयान नहीं आया है। देश में जब भी चुनाव आता है, तो भाजपा के लोग सेना के नाम पर वोट मांगते हैं। लेकिन, जब आज हमारे देश के जवान शहीद हो रहे हैं, तो प्रधानमंत्री को सीमा की वास्तविक स्थिति साफ करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.