तूफान से मची तबाही का जायजा लेने पीएम मोदी पहुंचे बंगाल , ममता बनर्जी ने किया स्वागत

नई दिल्ली। शुक्रवार, 22 मई 2020: पीएम मोदी पश्चिम बंगाल के कोलकाता एयरपोर्ट पहुंचे, जहां राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनका स्वागत किया। पीएम मोदी अम्फान से प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। इससे पहले, प्रधानमंत्री ने गुरुवार को कहा कि चक्रवात से प्रभावित लोगों की मदद के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी। पीएम नरेंद्र मोदी तकरीबन तीन महीने बाद दौरा करने जा रहे हैं। पीएम मोदी ने पिछली बार 29 फरवरी को कोई दौरा किया था,अम्फान तूफान ने बीते बुधवार को पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही मचाई थी. पश्चिम बंगाल में 283 साल बाद ऐसा भयानक तूफान आया था. एक अनुमान के मुताबिक इस तूफान से राज्य में एक लाख करोड़ रुपये से भी ज्यादा का नुकसान बताया जा रहा है। इस बीच जानकारी सामने आई है कि पीएम मोदी आज तूफान प्रभावित राज्यों पश्चिम बंगाल और ओडिशा का दौरा करने वाले हैं. पीएम मोदी 83 दिनों के बाद पहली बार दिल्ली के बाहर जा रहे है।

बता दें कि गुरुवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा राज्य के प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने की अपील की, जिसके कुछ घंटे बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से ये जानकारी दी गई। इससे पहले पीएम मोदी ने कहा था कि केंद्र की तरफ से प्राभावित राज्यों को हर संभव मदद दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पश्चिम बंगाल और ओडिशा में चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं। वह तूफान प्रभावित राज्यों के हवाई सर्वे और बातचीत के लिए रवाना हो गए हैं। पश्चिम बंगाल और ओडिशा का दौरा करने के बाद पीएम इन राज्यों में बैठकों में भी हिस्सा लेंगे और बचाव और राहत कार्यों की समीक्षा करेंगे।

आपको बता दें कि चक्रवाती तूफान अम्फान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भयंकर तबाही मचाई है। अम्फान से सबसे ज्यादा क्षति पश्चिम बंगाल को हुई है। राज्य में इस तूफान की वजह से 72 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रत्येक मृतक के परिवार के सदस्यों के लिए दो से ढाई लाख रुपए के मुआवजे का भी ऐलान किया है। तूफान अम्फान से राज्य के दक्षिणी इलाके 90 फीसदी तबाह हो चुके हैं। उत्तर और दक्षिण 24 परगना, मिदनापुर, कोलकाता, हावड़ा, बर्दवान, हुगली, बांकुड़ा, पुरुलिया, नदिया जिलों में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। तेज बारिश से कोलकाता हवाई अड्डा पूरी तरह से भर गया। वहीं, ओडिशा के केंद्रपाड़ा, भद्रक, बालासोर, मयूरभंज, जाजपुर और जगतसिंहपुर जिले सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं। राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने प्रभावित क्षेत्रों का हवाई दौरा किया। इस भयानक तूफान से ओडिशा में दो लोगों की मौत हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.