डिंडौरी के शहपुरा थाना प्रभारी पर महिला आरक्षक ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप

डिंडौरी। जिले के शहपुरा थाना में पदस्थ टीआई हेमंत बर्वे के खिलाफ महिला पुलिस आरक्षक ने घर में घुसकर छेड़खानी करने व मारपीट करने के गंभीर आरोप लगाए हैं। पीड़िता महिला आरक्षक ने कोतवाली पुलिस से घटना की शिकायत की है, लेकिन आरोपित टीआई के खिलाफ मामला दर्ज करने की बजाय पुलिस महकमा टीआई को बचाने में जुटा हुआ है। पीड़िता की मानें तो टीआई हेमंत बर्वे उसके साथ शादी करने के लिए लंबे समय से दबाव बना रहा था और शुक्रवार की देर शाम टीआई हेमंत बर्वे पुलिस लाइन स्थित आवास में जबरन घुस आए और महिला आरक्षक के साथ छेड़छाड़ करने लगे।

महिला का आरोप है कि शादी से इंकार करने पर टीआई ने महिला आरक्षक के साथ मारपीट भी की है। महिला संबंधी अपराध में तत्परता दिखाने वाला पुलिस विभाग मामला दर्ज करने की बजाय विशाखा गाईडलाइन का हवाला देते हुए अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ते हुए नजर आ रहा है। महिला आरक्षक ने शिकायत में टीआई पर उसके सरकारी आवास में घुसकर छेड़खानी व मारपीट का आरोप लगाया है।

पुलिस विभाग के अधिकारी कार्यस्थल में उत्पीड़न की दलील देते हुए नजर आ रहे हैं। शाम 7.30 बजे किसी के घर में जबरन घुसकर महिला कर्मचारी के साथ छेड़छाड़ व मारपीट की घटना पर विशाखा गाइडलाइन की पुलिसिया थ्योरी समझ से परे है। इसके अलावा महिला आरक्षक को शिकायत दर्ज कराने के लिए थाने में 4 घंटे तक का इंतज़ार कराने को लेकर भी पुलिस की भूमिका संदेह के घेरे में नजर आ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.