जम्मू-कश्मीर में DDC इलेक्शन की काउंटिंग:फारूक-महबूबा अलायंस को लीड, 80 सीटों पर आगे, 2 जीतीं; भाजपा को 48 सीटों पर बढ़त

जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद (DCC) चुनाव की 280 सीटों के लिए काउंटिंग जारी है। ताजा अपडेट्स के मुताबिक, पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लरेशन (PAGD) दो सीट जीत चुका है और उसे 80 सीटों पर बढ़त हासिल है। भाजपा 48 सीटों पर आगे हैं। कांग्रेस ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। वो एक सीट जीत चुकी है जबकि 18 पर उसे बढ़त हासिल है। अपनी पार्टी भी एक सीट पर कब्जा कर चुकी है, उसे चार सीटों पर बढ़त हासिल है। अन्य 38 सीटों पर आगे चल रहे हैं या फिर इन्हें जीत चुके हैं।

आर्टिकल 370 हटने के बाद यहां पहली बार हुए चुनाव हुए। गुपकार अलायंस के तहत 6 पार्टियों ने मिलकर चुनाव लड़ा था। जम्मू-कश्मीर में DDC की 280, वार्ड की 234 और पंच-सरपंच की 12,153 सीटों के लिए 8 फेज में चुनाव हुए थे। इनमें 51% वोटिंग हुई थी। 28 नवंबर को पहले फेज की वोटिंग हुई थी, जबकि 19 दिसंबर को 8वें और आखिरी फेज की वोटिंग हुई थी।

किस फेज में कितने वोट पड़े थे?

पहला फेज : 51.79%
दूसरा फेज: 48.62%
तीसरा फेज: 50.53%
चौथा फेज: 50.08%
पांचवां फेज: 51.20%
छठा फेज: 51.51%
सातवां फेज: 57.22%
आठवां फेज: 51.5%

6 पार्टियों का गुपकार अलायंस
जम्मू-कश्मीर के इतिहास में यह पहली बार है, जब 6 प्रमुख पार्टियों ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा। आर्टिकल 370 हटने के बाद इन पार्टियों ने मिलकर गुपकार अलायंस बनाया है। इसमें डॉ. फारूक अब्दुल्ला की अध्यक्षता वाली नेशनल कॉन्फ्रेंस, महबूबा मुफ्ती की अगुआई वाली पीडीपी के अलावा सज्जाद गनी लोन की पीपुल्स कॉन्फ्रेंस, अवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस, जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट और माकपा की स्थानीय इकाई शामिल है। वहीं, भाजपा और कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार उतारे। मौजूदा राजनीतिक समीकरणों के मुताबिक, गुपकार अलायंस कश्मीर में ताकतवर है, जबकि भाजपा की स्थिति जम्मू में काफी मजबूत है।

2018 में हुआ था आखिरी चुनाव
इसके पहले नवंबर-दिसंबर 2018 में पंचायत चुनाव हुआ था। उसमें 33 हजार 592 पंच सीटों पर 22 हजार 214 प्रत्याशी और 4,290 सरपंच पदों पर 3,459 प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की थी। बाकी सीटें खाली रह गई थी, जहां अब उपचुनाव हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.