जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल:मनोज सिन्हा ने पद संभाला, बोले- संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल जनता की भलाई के लिए किया जाएगा

मनोज सिन्हा ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल का पद संभाल लिया। शपथ ग्रहण के बाद उन्होंने कहा कि किसी से भेदभाव नहीं होगा। संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल जनता की भलाई के लिए किया जाएगा। भरोसा देता हूं कि लोगों की वाजिब शिकायतें सुनी जाएंगी और उनके समाधान की कोशिश की जाएगी। जम्मू-कश्मीर में विकास के कामों को आगे बढ़ाने का लक्ष्य रहेगा।

‘5 अगस्त अहम, जम्मू-कश्मीर इसी दिन मुख्यधारा में लौटा’
सिन्हा ने कहा कि कश्मीर भारत का स्वर्ग है, मुझे यहां काम करने का मौका दिया गया है। 5 अगस्त एक अहम तारीख है, क्योंकि कई सालों तक अलग-थलग रहने के बाद जम्मू-कश्मीर इसी दिन मुख्यधारा में लौटा। यहां कई प्रोजेक्ट्स शुरू हुए, अब उन्हें आगे ले जाने की जिम्मेदारी मेरी है।

सिन्हा पिछले साल लोकसभा चुनाव हार गए थे
गिरीश चंद्र मुर्मू के जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल पद से इस्तीफे के बाद राष्ट्रपति भवन ने गुरुवार को सिन्हा की नियुक्ति की जानकारी दी। गुजरात कैडर के आईएएस अफसर रहे मुर्मू को अब कॉम्प्ट्रॉलर एंड ऑडिटर जनरल ऑफ इंडिया (कैग) की जिम्मेदारी दी गई है। मनोज सिन्हा मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में रेल राज्य मंत्री और संचार राज्य मंत्री रहे थे। पिछले साल उत्तर प्रदेश की गाजीपुर सीट से लोकसभा चुनाव हार गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort