गलवान पर राहुल के मोदी से 3 सवाल / हमारी जमीन पर 20 निहत्थे जवानों की हत्या को चीन सही कैसे ठहरा रहा है

नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार भारत-चीन विवाद को लेकर सरकार पर हमला बोल रहे हैं। उन्होंने लद्दाख में चीन की सेना के पीछे हटने और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के चीनी विदेश मंत्री मंत्री वांग यी से बातचीत पर 3 सवाल उठाए।

उन्होंने पूछा कि सीमा पर यथास्थिति बनाए रखने लेकर दबाव क्यों नहीं डाला गया? दूसरा- हमारे क्षेत्र में निहत्थे 20 जवानों की हत्या को चीन द्वारा सही ठहराने क्यों दिया जा रहा है? तीसरा- गलवान घाटी में हमारी क्षेत्रीय संप्रभुता का जिक्र क्यों नहीं है? राहुल ने भारत और चीन की सरकारों के बयानों को ट्वीट कर शेयर किया। उन्होंने लिखा कि राष्ट्रहित सर्वोपरि है। इसकी रक्षा करना भारत सरकार की जिम्मेदारी है।
डोभाल और वांग यी के बीच दो घंटे बातचीत हुई थी
सोमवार को खबर आई थी कि गलवान घाटी में चीन ने अपनी सेना दो किलोमीटर पीछे बुला ली है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल की चीन के विदेश मंत्री मंत्री वांग यी से वीडियो कॉल पर दो घंटे चर्चा की थी। रविवार को हुई इस बातचीत के कुछ ही घंटे बाद चीन ने सेना वापस बुलाने का फैसला लिया।इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख का दौरा किया था।

राहुल ने कहा था- कोरोना, नोटबंदी, जीएसटी की नाकामी हार्वर्ड के लिए केस स्टडी
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को भी सरकार की नीतियों पर सवाल उठाए थे। राहुल ने ट्वीट कर कहा कि कोविड-19, नोटबंदी और जीएसटी के मामलों में सरकार की नाकामियां भविष्य में हार्वर्ड बिजनेस स्कूल के लिए केस स्टडी होंगी। इससे पहले वे कई बार लॉकडाउन की स्ट्रैटजी को फेल बता चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.