क्रिमिनल ट्रायल की सुनवाई वीडियो कॉफ्रेंसिंग से, सभी कोर्ट में कामकाज निलंबित

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ में कोरोनावायरस के संक्रमण से बचने के लिए अब हाईकोर्ट ने भी एडवाइजरी जारी कर दी है। इसमें कहा गया है कि केवल जमानत जैसे अर्जेंट मामलों की सुनवाई ही कोर्ट में होगी। वहीं पक्षकारों को लिखित में जवाब पेश करने की छूट दी गई है। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने सभी न्यायालयों में कामकाज अगले आदेश तक निलंबित कर दिया है। वहीं बिलासपुर में कोचिंग संस्थान भी 31 मार्च तक बंद कर दिए गए हैं और सिम्स में सर्दी-खासी के मरीजों के लिए अलग से ओपीडी बनाने के निर्देश जारी हुए हैं।
बिलासपुर हाईकोर्ट ने निर्देश दिए हैं कि जिला न्यायालय में होने वाले क्रिमनल ट्रॉयल की सुनवाई वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए कराई जाए। हाईकोर्ट ने अनावश्यक रूप से लोगों और पक्षकारों को कोर्ट आने से मना किया है। साथ ही कोर्ट परिसर में प्रशासन को साफ-सफाई, सैनिटाइजर उपलब्धता सुनिश्चित करने का भी आदेश दिया है। हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने चीफ जस्टिस रामचंद्र मेनन से मिलकर कोरोनावायरस को लेकर ज्ञापन सौंपा था। जिसके बाद हाईकोर्ट ने एडवाइजरी जारी की है।
बैंक की बजाय डिजिटल पेमेंट की सलाह
भारतीय स्टेट बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक एमएन परिदा ने कहा कि सभी ब्रांच को निर्देश दिए गए हैं कि सभी कर्मचारी मास्क का उपयोग करें। लोगों से बात करते समय दूरी बनाए रखें। सेनेटाइजर का उपयोग करें। उन्होंने कहा कि लोगों से अपील है कि वे एटीएम और बैंक में जाने की बजाय डिजिटल पेमेंट का उपयोग करें। इससे बैंक में भीड़ नहीं लगेगी। अगर एटीएम का उपयोग करते हैं तो उसके बाद अपने आप को सेनेटाइज जरूर करें।
होममेड सेनेटाइजर तैयार कर केंद्रों में रखें
अटल यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. जीडी शर्मा ने सोमवार को यूटीडी समेत सभी कॉलेजों को निर्देश जारी किया है कि सभी जगह सेनेटाइजर होना चाहिए। अगर मार्केट में नहीं मिल रहा है तो होम मेड सेनेटाइजर बनाएं। उन्होंने निर्देश दिया है कि पानी में तुलसी पत्ती, नीम पत्ती, फिटकरी, काली मिर्च सहित अन्य सामग्री मिलकर उसे गर्म करके बनाएं। सभी परीक्षा केंद्रों में अनिवार्य रूप से रखें। मास्क का उपयोग जरूर करें।
दो विषयों की परीक्षाएं अब नहीं होंगी
केंद्रीय विद्यालय संगठन रायपुर रीजन ने कोरोला वायरस के कारण 6वीं से 11वीं तक की होने वाली लोकल परीक्षाओं को शनिवार को स्थगित कर दिया था। सोमवार को संगठन ने निर्णय लिया है कि 6वीं, 7वीं और 8वीं की जिन दो विषयों की परीक्षाओं को स्थगित कर दिया था। अब वे नहीं होंगी। उनके आंतरिक मूल्यांकन का औसत निकालकर बच्चों को नंबर दिए जाएंगे। 9वीं और 11 वीं की 16 और 19 मार्च को होने वाली परीक्षाएं अब अगले आदेश के बाद ही शुरू होंगी।
जिला आपदा प्रबंधन ने कहा भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर न जाएं
जिला आपदा प्रबंधन ने आम लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है। सावधानी और सतर्कता जरूरी है। बिना कारण भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर न जाएं। आपको नहीं पता कि कौन संक्रमित है। उपासना स्थल, माॅल आदि भीड़ वाले जगहों पर जाने से बचें। अपने घर पर समय बिताएं। संक्रमण से बचने के लिए सार्वजनिक स्थानों पर यात्रा करते समय या काम करते समय एन-95 मास्क का उपयोग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.