कोविड-19 आंकड़ों को लेकर हंगामा – ममता ने स्वास्थ्य सचिव को हटाया

कोलकाता। मंगलवार, 12 मई 2020: मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोरोना वायरस (कोविड-19) आंकड़ों को लेकर हंगामे के बीच स्वास्थ्य विभाग में अपने सर्वोच्च रैंक वाले आईएएस अफसर का तबादला कर दिया है। पश्चिम बंगाल सरकार ने स्वास्थ्य सचिव विवेक कुमार का तबादला पर्यावरण विभाग में किया है और नारायण स्वरूप निगम को नया स्वास्थ्य सचिव नियुक्त किया है।

बता दें कि स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव विवेक कुमार 1990 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। पश्चिम बंगाल में कोरोना महामारी के पिछले तीन हफ्तों के दौरान यह आईएएस अधिकारियों का तीसरा फेरबदल है। विवेक कुमार से पहले, प्रमुख सचिव, खाद्य और आपूर्ति मनोज अग्रवाल, सुब्रत गुप्ता, प्रमुख सचिव, शहरी विकास और नगरपालिका मामलों को उनके संबंधित विभागों से हटाया गया।

पश्चिम बंगाल में अब तक संक्रमण से 190 लोगों की मौत हो चुकी है जिनमें से 72 लोग पहले से ही विभिन्न बीमारियों के शिकार थे। राज्य में सोमवार तक संक्रमण के 1,939 मामले हैं जिनमें से 1,374 लोगों का उपचार चल रहा है।

वहीं देश में कोरोनावायरस संक्रमितों का कुल आंकड़ा बढ़कर 70,000 के पार पहुंच गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोरोना से अब तक 2293 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 70,756 हो गई है। वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3604 नए मामले सामने आए हैं और 87 लोग इसकी वजह से जान गंवा चुके हैं।

बता दें कि महामारी कोरोना के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार शाम को राष्ट्र को संबोधित किया। देश के नाम संबोधन में कोरोना महामारी से लड़ने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की है। मोदी के मुताबिक ये राशि देश की जीडीपी का 10 फीसदी है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि ये पैकेज देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए है। उन्होंने कहा कि इसमें आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने के लिए इस पैकेज में लैंड, लेबर, लिक्विडिटी और लॉ सभी पर बल दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllEscort