कमलनाथ ने कहा- शिवराज तो दोनों जेबों में नारियल लेकर घूम रहे, मौका मिलते ही फोड़कर नई घोषणा करते हैं

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि खजाना खाली होने के बाद भी हमने किसानों का कर्ज माफ किया। पहली बार में 21 लाख किसानों का कर्जा माफ हुआ, दूसरी किश्त की राशि 31 मार्च से मिलना थी, लेकिन पहले ही सरकार गिरा दी गई। हम वचनबद्ध हैं कि जैसे ही हमारी सरकार मप्र में आएगी, हम सभी किसानों का कर्जा माफ करेंगे। केवल इनकम टैक्स वालों का कर्जा माफ नहीं होगा। वे भांडेर में चुनावी सभा काे संबाेधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा- शिवराज सिंह चौहान पहले एक जेब में नारियल रखकर घूमते थे और अब दोनों जेबों में नारियल रखकर घूम रहे हैं, जहां मौका मिला वहां नारियल फोड़कर एक नई घोषणा करते हैं। अब तक 17 हजार घोषणाएं कर चुके हैं। लेकिन वे यह नहीं समझ रहे हैं कि अब घोषणाओं से कुछ होने वाला नहीं है। उनके झूठ से अब झूठ को भी शर्म आने लगी है। सोमवार को भांडेर में आयोजित आमसभा को संबोधित करते हुए मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कही।

कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस की सरकार 15 साल बाद बनी। भाजपा सरकार ने हमें भ्रष्टाचार में नंबर वन, महिला अत्याचार में नंबर वन, बेरोजगारी में नंबर वन प्रदेश सौंपा। कौन सी चुनौती हमारे पास नहीं थी। इन्होंने खरीद फरोख्त करके सरकार बनाई। खरीद फरोख्त हम भी कर सकते थे लेकिन हमने ऐसा नहीं किया। हम लोकतंत्र पर विश्वास करते हैं। हमारा किसान भाई गायों से परेशान हैं इसलिए हमने गौशालाएं बनवाना शुरू किया। हमने बेरोजगारों को काम देने के लिए योजना शुरू की, बुजुर्गों को पेंशन की राशि हमने बढ़ाई। अगर सरकार पांच साल चलती तो तकदीर और तस्वीर बदल देते। आज की नौजवान पीढ़ी इंटरनेट की पीढ़ी है। हर अच्छा बुरा समझता है।

कमलनाथ ने कहा कि खजाना खाली होने के बाद भी हमने किसानों का कर्जा माफ किया। पहली बार में 21 लाख का कर्जा माफ हुआ, दूसरी किश्त की राशि 31 मार्च से मिलना थी। लेकिन पहले ही सरकार गिरा दी गई। लेकिन हम वचनबद्ध हैं कि जैसे ही हमारी सरकार मप्र में आएगी हम सभी किसानों का कर्जा माफ करेंगे। केवल इनकम टैक्स वालों का कर्जा माफ नहीं होगा। कमलनाथ ने जिला प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि कलेक्टर और एसडीएम जो काम कर रहे हैं वो ध्यान से सुन लें कि अब समय बदल गया है।

कमलनाथ का समय आने वाला है। पुलिस वाले भी समझ जाएं और अपनी वर्दी की इज्जत करना सीख लें अन्यथा वर्दी नहीं दिखेगी। उन्होंने सभा में मौजूद भीड़ से कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया के लिए वोट मांगे। मंच का संचालन पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने किया। सभा को पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, प्रदेश उपाध्यक्ष दामोदर सिंह यादव, सेंवढ़ा विधायक घनश्याम सिंह, पूर्व विधायक राजेंद्र भारती, प्रत्याशी फूलसिंह बरैया, देवाशीष जरारिया, रामकिंकर गुर्जर समेत तमाम कांग्रेस पदाधिकारियों ने संबोधित किया।

हमने खरीद-फरोख्त नहीं की
कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने खरीद-फरोख्त करके सरकार बनाई। खरीद-फरोख्त हम भी कर सकते थे लेकिन हमने ऐसा नहीं किया। हम लोकतंत्र पर विश्वास करते हैं। कमलनाथ ने जिला प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि कलेक्टर और एसडीएम जो काम कर रहे हैं वो ध्यान से सुन लें कि अब समय बदल गया है। कमलनाथ का समय आने वाला है। पुलिस वाले भी समझ जाएं और अपनी वर्दी की इज्जत करना सीख लें अन्यथा वर्दी नहीं दिखेगी।

आमसभा में पहुंचे लोगों की जेब काटकर मोबाइल और नगदी चोरी, थाने पर लगी पीड़ितों की भीड़, एक आरोपी को पुलिस को सौंपा
कांग्रेस की आमसभा में चोर भी सक्रिए रहे। चोरों ने मौका पाकर भीड़ में फंसे लोगों की जेबें काटकर मोबाइल और पैसे निकाल लिए। जब आमसभा खत्म हुई और लोगों ने अपनी-अपनी जेबों में हाथ डाला तो खाली और कटी हुई जेब देखकर पसीना आ गया। हालत यह हो गई कि जिनके मोबाइल और नगदी चोरी हो गई वे सीधे भांडेर थाने में पहुंच गए। जिससे थाने के बाहर लोगों की भीड़ जमा हो गई।

वहीं आमसभा में जेब पर हाथ साफ करते वक्त भीड़ ने एक युवक को पकड़ा और अच्छी तरह धुन दिया। पकड़े गए चोर ने मड़इयन निवासी पप्पू यादव के 1500 रुपए और अजय शुक्ला के ढाई हजार रुपए पार कर दिए। भीड़ ने चोर की धुनाई की फिर भांडेर पुलिस के सुपुर्द कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.