अब महाराष्ट्र में भारी बारिश, फसलें बर्बाद, परीक्षाएं रद्द, NDRF की टीमें तैनात

ध्र प्रदेश, तेलंगाना और कर्नाटक के बाद अब महाराष्ट्र में मौसम का कहर देखने को मिल रहा है। मुंबई और पुणे में बीती रात से भारी बारिश हो रही है। दोनों शहरों में जनजीवन प्रभावित हुए है। इसके अलावा रत्नागिरी में भी भारी बारिश हुई है। बारिश का पानी लोगों के घरों के अंदर आ गया है। हाईवे पर यातायात बंद करना पड़ा है। पुणे व महाराष्ट्र के अन्य इलाकों के लिए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट घोषित किया है, वहीं मुंबई के लिए ऑरेंज अलर्ट है। मौसम विभाग ने लोगों को आज घरों में रहने को कहा है। मुंबई में रात हुई बारिश के बाद बायकुला, हिंदमाता, कुर्ला, किंग सर्किल समेत कई इलाकों जलजमाव हो गया है। पढ़िए LIVE Updates

Maharashtra Weather Alert Today: एनडीआरएफ ने राहत तथा बचाव कार्य के लिए 2 टीमें कर्नाटक और 3 टीमें महाराष्ट्र में भेजी हैं। महाराष्ट्र में भेजी गई टीमें सोलपुर, पुणे और लातुर में तैनात की गई हैं। मौसम विभाग के अनुसार, भारी बारिश के कारण धान की फसल, केला, पपीता के पेड़, ड्रमस्टिक के पेड़ और बागवानी फसलों को नुकसान की आशंका है। निचले इलाकों में बाढ़ / जल जमाव और भूस्खलन हो सकता है।

Maharashtra Weather Alert Today: सावित्री बाई फुले यूनिवर्सिटी, पुणे में आज होने वाली ऑनलाइन परीक्षाएं भारी बारिश के कारण रद्द कर दी हैं। नया शेड्यूल जल्द जारी किया जाएगा।
हैदराबाद में 20 साल से नहीं हुई ऐसी भारी बारिश

इससे पहले बुधवार को तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश ने लोगों पर कहर बरपाया है। दोनों राज्यों में लगभग 25 लोगों की मौत हो गई है। सबसे ज्यादा 15 मौतें तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में हुई हैं। बताया गया है कि यहां पिछले 20 साल से ऐसी भारी बारिश नहीं हुई थी। आंध्र प्रदेश में 10 लोगों की जान गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने दोनों राज्यों को हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया है।
भारी बारिश सेतेलंगाना के कई जिलों में सड़कें पानी से भर गई हैं। हैदराबाद का सबसे बुरा हाल है। यहां पानी के तेज बहाव से कई स्थानों पर जमीन खिसक गई है। राज्य सरकार ने गुरुवार तक सभी निजी संस्थानों को बंद करने का आदेश दिया है। लोगों को फिलहाल घरों में रहने की सलाह दी गई है।

शहरी विकास मंत्री केटी रामाराव और पशुपालन मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आपात बैठक कर बचाव एवं राहत कार्यों की समीक्षा की। हैदराबाद के गगन पहाड़ क्षेत्र में दीवार गिरने से एक बच्चे सहित परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई। जबकि, चंद्रींगुट्टा पुलिस स्टेशन की सीमा पर दो घरों की दीवारों के गिरने में एक बच्चे सहित दस लोगों की मौत हो गई। एक अन्य घटना में घर की छत गिरने से 40 वर्षीय महिला और उसकी बेटी की मौत हो गई।
ग्रेटर हैदराबाद नगरपालिका अंतर्गत आने वाले कई इलाकों में भारी बारिश से जलजमाव हो गया है। राज्य के मुख्य सचिव सोमेश कुमार ने सभी जिलों को हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है। खतरे के मद्देनजर हैदराबाद के कई इलाकों में बिजली आपूर्ति को रोक दिया गया है। हैदराबाद की हुसैन सागर झील अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच चुकी है। शहर के कई निचले इलाकों में पानी भर गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.