अब तक 4 हजार 781 मामले: 8 दिन में पहली बार ऐसा हुआ जब संक्रमितों की संख्या कम हुई, एक दिन में 488 नए मामले सामने आए

नई दिल्ली. कोरोनावायरस का संक्रमण दूसरी और तीसरी स्टेज के बीच पहुंच गया है। सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह बात कही। हालांकि, बीते 8 दिन में कल पहली बार ऐसा हुआ जब नए मामलों में कमी दर्ज की गई। दिन भर में 488 रिपोर्ट पॉजिटिव आईं। 28 मार्च को संक्रमितों की संख्या में 141 की बढ़ोतरी हुई थी। अगले दिन इसमें कमी आई और 115 नए मामले सामने आए थे। इसके बाद हर दिन संक्रमितों की संख्या बढ़ती गई। अब तक 4 हजार 781 मामले सामने आ चुके हैं। बीमारी 27 राज्य और 5 केंद्र शासित प्रदेशों में फैल चुकी है। 135 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 361 बीमारी से उबर चुके हैं। ये आंकड़े covid19india.org वेबसाइट के मुताबिक हैं। वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में कोरोना संक्रमण के कुल 4 हजार 281 मामले सामने आए हैं। इनमें से 3 हजार 851 मरीजों का इलाज चल रहा है। 318 ठीक हुए हैं, जबकि 111 की मौत हो चुकी है।

महाराष्ट्र में हालात सबसे ज्यादा बिगड़े हुए हैं। यहां एक ही दिन में 120 नए मामले सामने आने के साथ ही कुल केस 868 तक पहुंच गए। 621 केस के साथ तमिलनाडु दूसरे नंबर पर है। देश की राजधानी दिल्ल में भी 525 केस मिल चुके हैं।
प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से कहा- 10 फैसले और 10 प्राथमिकताओं की लिस्ट बनाएं
प्रधानमंत्री ने सोमवार को केंद्रीय मंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की। उन्होंने मंत्रियों से कहा कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद 10 फैसलों और 10 प्राथमिकताओं की एक सूची बनाएं। प्रधानमंत्री ने कहा कि आप सभी की ओर से लगातार मिल रही प्रतिक्रियाएं, इस आपदा से निपटने की रणनीति बनाने में प्रभावी रही हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार फसल कटाई के इस सीजन में किसानों की हर संभव मदद करेगी। उन्होंने किसानों को मंडियों से जोड़ने के लिए कैब सर्विस की तर्ज पर ऐप आधारित ट्रक सेवा उपलब्ध कराने का सुझाव भी दिया।

पीएम से लेकर सासंदों तक ने 30% वेतन कटौती की पेशकश की
कोरोना संकट को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उनके मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों और सभी दलों के सांसदों ने एक साल तक अपने वेतन का 30% हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया है। कैबिनेट ने सोमवार को इस संबंध में एक अध्यादेश जारी किया। इसके साथ ही राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति और राज्यपालों ने भी अपनी सैलरी में 30% की कटौती करने की पेशकश की है। इससे पहले प्रधानमंत्री ने सोमवार को कोरोना को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कैबिनेट की बैठक की। इसमें सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया। गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बैठक के दौरान एक-दूसरे से दूर बैठे नजर आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.