Uncategorizedदिल्लीदेश

कोरोना देश में:एक हफ्ते में एम्स दिल्ली के डॉक्टर्स समेत 32 हेल्थ वर्कर्स पॉजिटिव

एक्टिव रेट के हिसाब से छत्तीसगढ़ सबसे संक्रमित राज्य हुआ

कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच एक और चिंता की खबर सामने आई है। पिछले एक हफ्ते के अंदर एम्स नई दिल्ली के कई डॉक्टर्स समेत 31 हेल्थ वर्कर्स कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन सभी लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज दी जा चुकी है। एक दिन पहले ही दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल के 37 डॉक्टर्स संक्रमित पाए गए थे। शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सर गंगाराम हॉस्पिटल के डायरेक्टर से मुलाकात कर हालात का जायज़ा लिया।

छत्तीसगढ़ देश का सबसे संक्रमित राज्य

देश में एक्टिव रेट के मामलों में छत्तीसगढ़ देश का सबसे ज्यादा संक्रमित राज्य हो गया है। यहां सबसे ज्यादा 16.7% मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है। इस मामले में महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर है। यहां 16.1% एक्टिव केस हैं।

छत्तीसगढ़ के कोरोना आंकड़ों पर नजर डालें तो अब तक यहां 4 लाख 7 हजार 231 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 3 लाख 34 हजार 543 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 4,563 मरीजों ने दम तोड़ दिया। 68 हजार 125 यानी 16.7% मरीजों का अभी इलाज चल रहा है।

वहीं, महाराष्ट्र में अब तक 32 लाख 29 हजार 547 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 26 लाख 49 हजार 757 लोग रिकवर हो चुके हैं, जबकि 57 हजार 28 मरीजों की मौत हो गई। 5 लाख 21 हजार 317 यानी 16.1% मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। चंडीगढ़ का एक्टिव रेट 10.6% और पंजाब का 10% है। देश में मरीजों के मिलने की रफ्तार भी बढ़कर 9.21% हो गई है। मतलब अब हर 100 लोग में 9 कोरोना से संक्रमित पाए जा रहे हैं।

गुरुवार को रिकॉर्ड 1.31 लाख मरीज मिले

देश में कोरोनावायरस से हर दिन हालात बिगड़ते ही जा रहे हैं। रोज संक्रमण के मामलों का नया रिकॉर्ड बन रहा है। पिछले 24 घंटे के अंदर देश में 1 लाख 31 हजार 878 लोग संक्रमित पाए गए। पिछले साल वायरस के शुरू होने से लेकर अब तक एक दिन के अंदर मिले मरीजों की ये संख्या सबसे अधिक है। इसके पहले बुधवार को देश में सबसे ज्यादा 1 लाख 26 हजार 276 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

गुरुवार को रिकवर होने वालों का आंकड़ा 61 हजार 829 रहा। संक्रमण के चलते मरने वालों की संख्या 802 रही। 17 अक्टूबर के बाद ये पहली बार है जब एक दिन के अंदर 800 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। 17 अक्टूबर को 1032 मरीजों ने जान गंवा दी थी।

अमेरिका की राह पर भारत, पहले केस कम हुए फिर अचानक बढ़ने लगे
कोरोना केस के मामले में भारत भी अब अमेरिका की राह पर है। अमेरिका में भी पिछले साल अगस्त और सितंबर में मामले काफी तेजी से घटने लगे थे, फिर अचानक अक्टूबर से इसमें इजाफा शुरू हो गया और दिसंबर में एक महीने के अंदर रिकॉर्ड 63.45 लाख मरीज मिले।

अमेरिका में कोरोना का पहला पीक 24 जुलाई को आया था, तब यहां एक दिन के अंदर सबसे ज्यादा 80 हजार मामले सामने आए थे, लेकिन दूसरी पीक में ये सारे रिकॉर्ड टूट गए। 7 नवंबर से ही यहां हर दिन एक लाख से ज्यादा मरीजों की पहचान होने लगी। 8 जनवरी को रिकॉर्ड 3 लाख 9 हजार से ज्यादा लोग यहां संक्रमित पाए गए। भारत में भी कुछ ऐसा ही हो रहा है। यहां दिसंबर, जनवरी और फरवरी तक काफी कम केस आए लेकिन मार्च से अचानक इसमें जबरदस्त बढ़ोतरी शुरू हो गई। अब हर दिन एक लाख से ज्यादा मरीज बढ़ रहे हैं। भारत में कोरोना के पहले पीक में एक दिन के अंदर सबसे ज्यादा 97 हजार लोग संक्रमित मिले थे। आंकड़े बता रहे हैं कि अगर इस बार जल्दी ही संक्रमण की रफ्तार पर लगाम नहीं लगती है तो हालात अमेरिका से भी ज्यादा खराब हो जाएंगे।

कोरोना अपडेट्स

  • राजधानी दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल के 37 डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इन सभी डॉक्टरों को टीका लग चुका है। इनमें 32 डॉक्टर होम क्वारैंटाइन हैं, जबकि 5 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
  • कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए AIIMS दिल्ली में 10 अप्रैल यानी शनिवार से विभिन्न ऑपरेशन थिएटरों में केवल इमरजेंसी सर्जरी ही की जाएगी।
  • केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ओमान चांडी की कोरोना रिपोर्ट गुरुवार को पॉजिटिव आई है।
  • दिल्ली में पिछले 24 घंटे के अंदर कोरोना के 7,437 केस सामने आए हैं। 42 लोगों की मौत हुई है। नए आंकड़े सामने आने के बाद दिल्ली में एक्टिव केस की संख्या 23,181 हो गई है। यहां अब तक 6 लाख 98 हजार 5 लोग कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। मुंबई में गुरुवार को कोरोना के 8,938 केस सामने आए हैं। 23 लोगों की मौत हुई है, वहीं 4,503 मरीज रिकवर भी हुए हैं। यहां अब तक कोरोना के 4 लाख 91 हजार 698 केस आ चुके हैं। इनमें से 3 लाख 92 हजार 514 मरीज रिकवर हो गए, जबकि 11,874 की मौत हो गई। यहां 86,279 एक्टिव केस हैं।
  • उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामलों में जबरदस्त इजाफा देखने को मिला है। इसके चलते राज्य सरकार ने राजधानी लखनऊ समेत 5 जिलों में नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया है। इसमें लखनऊ के अलावा प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर और नोएडा शामिल हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हालात का जायजा लेने के लिए इन जिलों में औचक निरीक्षण करने की बात भी कही है।
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) रूड़की में कोरोना मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। गुरुवार को भी इंस्टीट्यूट के हॉस्टल में रहने वाले 29 स्टूडेंट्स कोरोना पॉजिटिव पाए गए। अब तक इंस्टीट्यूट के 89 स्टूडेंट्स संक्रमित हो चुके हैं। इंस्टीट्यूट एडमिनिस्ट्रेशन ने बिगड़ते हालात को देखते हुए संस्थान के कोटले भवन, कस्तूरबा भवन, विज्ञान कुंज, सरोजिनी भवन और गोविद भवन को कंटेनमेंट जोन बना दिया है। हॉस्टल में रहने वाले बाकी छात्रों की जांच भी हो रही है।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज भी ले ली। एम्स नई दिल्ली में गुरुवार सुबह उन्होंने कोवैक्सिन की दूसरी डोज लगवाई। पहली डोज उन्होंने 1 मार्च को लगवाई थी। सोशल मीडिया पर फोटो शेयर करते हुए उन्होंने अन्य लोगों से भी वैक्सीन लगवाने की अपील की। लिखा, ‘वैक्सीनेशन उन चंद तरीकों में से एक है जिसके जरिए कोरोना को हराया जा सकता है। इसलिए अगर आप वैक्सीन लगवाने की एलिजिबिलिटी पूरी करते हैं तो तुरंत लगवा लें।’
  • डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (DST) के सेक्रेटरी और देश के बड़े वैज्ञानिकों में शुमार प्रो. आशुतोष शर्मा ने कहा है कि कोरोना के इस फेज की रफ्तार पहले की अपेक्षा काफी अधिक है। मतलब इस फेज में ज्यादा तेजी से लोगों के बीच संक्रमण फैलेगा। इसे रोकने के लिए केवल बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन ही कारगर साबित होगी। देश की ज्यादातर आबादी के बीच वैक्सीनेशन के बाद संक्रमण का असर कम होने लगेगा।
  • कनार्टक के CM बीएस येदियुरप्पा ने बेंगलुरु, मैसूर, मैंगलोर, कलबुर्गी, बीदर, तुमकुरु, उडुपी और मणिपाल में 10 से 20 अप्रैल के बीच नाइट कर्फ्यू की घोषणा की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close